जबलपुर में नौकरी दिलाने के नाम पर 21 लाख की ठगी 

इस ख़बर को शेयर करें

जबलपुर : नौकरी दिलाने के नाम पर 21 लाख की ठगी करने वाले आरोपी के विरूद्ध पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करते हुए मामले की जांच सुरु कर दी है।

क्या है पूरा मामला 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस अधीक्षक जबलपुर आदित्य प्रताप सिंह (भा.पु.से.) से शुभम राठौर निवासी जय प्रकाश नगर, सांई मंदिर के पीछे, आधारताल ने लिखित शिकायत की कि   जितेन्द्र पाल सिंह चावला  निवासी एंजल अपाटर्मेन्ट, रामलीला चैक छातरपुर साऊथ वेस्ट दिल्ली ने स्वयं को व्हाइट ग्लोब कंपनी के कंसल्टेंट कमर्चारी बताकर स्टैंडडर् चाटर्र बैंक में नौकरी दिलाने के नाम पर  स्वयं कें खाते में कई किश्तों में कुल 21 लाख की राशि जमा करायी है तथा जितेन्द्र पाल सिंह चावला ने अपनी साथी सहायक कुमारी आराधना के एकाउंट में  1 लाख रुपये डालवाये गये हैं। जितेन्द्र पाल सिंह चावला द्वारा  मोबाईल पर  बात की जाती थी  , बात करते हुये जितेेन्द्र सिह ने स्टैंडडर् चाटर्र बैंक में नौकरी दिलाने का विश्वास दिलाया और वाब््सअप द्वारा बैंक के प्रस्ताव पत्र की फोटो भी भेजी और कहा कि तुम्हेे नौकरी मिल गई है तथा स्टैंडडर् चाटर्र बैंक की एच.आर. कुमारी शिखा से मोबाईल पर बात कराई। जब  दिल्ली जाकर बैंक की जांच की तो वहां के बैंक कमर्चारियों ने बताया की इस नाम की कोई एच.आर.उनके बैंक में काम नहीं करती है। शक होने पर जितेन्द्र पाल सिंह को दिये पते पर पहुंचकर अपने रूपये वापस मांगा तो जितेन्द्र पाल ने उसे 17 लाख रुपये का चेक दिया, जो बैंक में लगाने पर बाउंस हो गया।
ऐसे दिया ठगी को अंजाम 
वहीं  जितेन्द्र पाल सिंह चावला ने स्वयं को व्हाइट ग्लोब कंपनी का कंसल्टेंट कमर्चारी बताकर स्टैंडडर् चाटर्र बैंक में नौकरी दिलाने के नाम पर 21 लाख रुपये की ठगी की  है।
पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री आदित्य प्रताप सिंह (भा.पु.से.) द्वारा शिकायत की जांच कर विधिवत कायर्वाही करने हेतु आदेशित  किया गया। शिकायत की जांच पर जितेन्द्र पाल सिंह चावला  द्वारा स्वयं को  व्हाइट ग्लोब कंपनी का कंसल्टेंट कमर्चारी बताकर स्टैंडडर् चाटर्र बैंक में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करते हुये लगभग 21 लाख रुपये लेकर धोखाधड़ी करना पाये जाने पर  जितेन्द्र पाल सिंह चावला के विरूद्ध धारा 420 भादवि का अपराध ंपजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

इस ख़बर को शेयर करें