जबलपुर में हर्षोल्लास से मनाया गया गणतंत्र दिवस

इस ख़बर को शेयर करें

 

जबलपुर,जिले भर में राष्ट्र का 75वाँ गणतंत्र दिवस बड़े ही  हर्षोल्लास और धूमधाम से मनाया गया। गणतंत्र दिवस का जिले का मुख्य समारोह यहां सिविल लाइन स्थित पुलिस ग्राउंड में आयोजित किया गया, जहां मुख्य अतिथि प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री राकेश सिंह ने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराया और परेड की सलामी ली।गणतंत्र दिवस के जिले के मुख्‍य समारोह में राष्‍ट्र ध्‍वज तिरंगा फहराने के बाद लोक निर्माण मंत्री श्री राकेश सिंह ने खुली सफेद जिप्सी में कलेक्टर दीपक सक्सेना एवं पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह के साथ परेड़ का निरीक्षण किया। उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव का प्रदेश की जनता के नाम गणतंत्र दिवस के संदेश का वाचन किया। इस मौके पर सशस्त्र बलों ने हर्षफायर किये तथा पुलिस बैंड द्वारा राष्ट्रगान की धुन बजाई गई। लोक निर्माण मंत्री श्री सिंह ने तिरंगे के तीन रंगों के गुब्बारे मुक्त आकाश में छोड़े।

समारोह में परेड द्वारा शानदार मार्चपास्ट

समारोह परेड द्वारा शानदार मार्चपास्ट प्रस्तुत किया गया। मार्चपास्ट में एसटीएफ, कम्पेक्ट प्लाटून छठवीं वाहिनी, नगर सेना, जिला पुलिस बल पुरूष, जिला पुलिस बल महिला, नेशनल कैडेट कोर की नेवल यूनिट, नेशनल कैडेट कोर की सीनियर तथा जूनियर डिवीजन की बालक एवं बालिका तथा स्काउट एवं गाईड की प्लाटून शामिल थीं। परेड का नेतृत्व भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी आदर्श कांत शुक्ला ने किया। परेड के उप कमांडर सूबेदार योगेश चौकसे थे। मुख्य अतिथि लोक निर्माण मंत्री श्री सिंह मंत्री ने परेड की सलामी ली तथा मार्चपास्ट के बाद प्लाटून कमाण्डरों से परिचय प्राप्त किया। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों एवं लोकतंत्र सेनानियों का शाल एवं श्रीफल भेंट कर सम्मान भी किया। इस मौके पर कला पथक दल द्वारा मध्यप्रदेश गान प्रस्तुत किया गया।

छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की दी सुंदर प्रस्तुति 

गणतंत्र दिवस की 74वीं वर्षगांठ पर आयोजित इस समारोह में शालेय छात्र-छात्राओं ने आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। रंग-बिरगें परिधान से सजे बच्चों की प्रस्तुति ने सभी का मनमोह लिया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में सर्वप्रथम शिशु विद्या पीठ विद्यालय जीसीएफ के विद्यार्थियों ने देशभक्ति गीत पर मनमोहक नृत्य की प्रस्तुति दी । नर्मदा रोड स्थित महर्षि विद्या मंदिर की छात्राओं ने सामूहिक नृत्य प्रस्तुत कर राष्ट्रभक्ति और समरसता के सन्देश को प्रेषित किया। सेंट नार्बर्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छत्राओं ने झांसी की रानी लक्ष्मी बाई की शौर्य गाथा पर सशक्त प्रस्तुति देकर मौजूद दर्शकों को देशभक्ति के जज्बे से भर दिया। बाल मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के विद्यार्थियों ने महुआ नृत्य प्रस्तुत कर लोक संस्कृति की झलक प्रस्तुत की । वहीं विज्डम पब्लिक स्कूल के छात्र-छात्राओं ने असम राज्य के लोकनृत्य बिहू प्रस्तुत कर देश की समृद्ध लोककलाओं से मौजूद दर्शकों को परिचित कराया । सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अंतिम प्रस्‍तुति में स्टेमफील्ड पब्लिक स्कूल के बच्चों द्वारा देश भक्ति की धुनों पर राजकीय खेल मलखम्ब का प्रदर्शन था। इस स्‍कूल के नन्‍हें छात्र-छात्राओं ने मलखम्‍ब पर विभिन्‍न आकृतियां बनाकर सभी को मंत्रमुग्‍ध कर दिया।मुख्य समारोह में राज्य शासन के चौदह शासकीय विभागों में जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, कृषि विभाग, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस केन्द्रीय जेल, नगर निगम, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा विभाग, जनजातीय कार्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, पुलिस, यातायात पुलिस, जिला पंचायत, शिक्षा विभाग तथा वन विभाग द्वारा राज्य शासन की प्राथमिकता में शामिल योजनाओं पर आधारित उपलब्धियां युक्त आकर्षक चलित विकास झांकी निकाली । झांकियों में केंद्रीय जेल जबलपुर की ‘‘कारागार नहीं सुधार गृह’’ की थीम पर प्रस्तुत झांकी को प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ। कृषि विभाग की मोटे अनाज “श्री अन्न” की खेती तथा स्वास्थ्य एवं अर्थव्यवस्था पर इसके प्रभाव को प्रदर्शित करती झांकी ने द्वितीय स्थान हासिल किया । जिला पंचायत की विकसित ग्राम की थीम पर प्रदर्शित झांकी तथा शिक्षा विभाग की स्मार्ट क्लास रूम पर केंद्रित झांकी को सयुंक्त रूप से तीसरा पुरस्कार दिया गया ।गणतंत्र दिवस समारोह में आकर्षक मार्च पास्ट के लिये प्रथम पुरस्कार एसटीएफ की प्लाटून को, द्वितीय पुरस्कार एनसीसी सीनियर डिवीजन बालक प्लाटून को द्वितीय तथा जिला पुलिस बल महिला प्लाटून को तृतीय पुरस्कार मिला। गणतंत्र दिवस के जिले के मुख्य समारोह के समापन पर मुख्य अतिथि लोक निर्माण मंत्री श्री राकेश सिंह ने शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये अधिकारियों-कर्मचारियों को प्रशस्ति  पत्र प्रदान कर पुरस्कृत किया ।

इनका भी हुआ सम्मान 

इस बार उत्कृष्ट कार्यों के लिये सम्मानित शासकीय कर्मचारियों-अधिकारियों में ज्यादातर मैदानी स्तर के अधिकारी-कर्मचारी थे। इनमें भी सफाई कर्मियों, ग्राम पंचायत सचिव, ग्राम रोजगार सहायक, आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ता जैसे कर्मचारियों की संख्या अधिक थी। शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों के अलावा प्रगतिशील और जैविक खेती अपनाने वाले किसानों का भी मुख्य समारोह में लोक निर्माण मंत्री द्वारा सम्मान किया गया । पुरस्कार वितरण की शुरुआत मुख्य अतिथि द्वारा चार वर्ष की उम्र में 26 किलोमीटर की मैराथन दौड़ पूरी करने वाली प्रज्ञा भदौरिया को सम्मानित कर की गई। श्री सिंह ने स्वच्छता एवं स्वास्थ्य से जुड़े विभिन्न कार्यक्रमों के प्रति जनजागरूकता पैदा करने में सहयोगी की भूमिका निभाने वाली केंद्रीय विद्यालय वन एस टी सी की छात्रा शेल्वी धुसिया को भी प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। गणतंत्र दिवस समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत सभी स्कूलों को भी मुख्य अतिथि ने पुरस्कार प्रदान किये ।

ये थे उपस्थित 

मुख्य समारोह में विधायक अशोक रोहाणी, नगर निगम अध्यक्ष  रिकुंज विज, संभागायुक्त अभय वर्मा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उमेश जोगा, उप पुलिस महानिरीक्षक तुषार कांत विद्यार्थी, कलेक्टर दीपक सक्सेना, पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह, जिला पंचायत की सीईओ जयति सिंह, नगर निगम आयुक्त प्रीति यादव, अपर कलेक्टर श्रीमती मिशा सिंह, शेर सिंह मीणा एवं नाथूराम गौंड, जिला और संभाग के प्रमुख अधिकारी, छात्र-छात्रायें, शिक्षक और बड़ी संख्या में नागरिकगण मौजूद थे। समारोह का संचालन गिरीश मेराल ने किया।

संभागायुक्त कार्यालय एवं कलेक्टर कार्यालय मे लहराया तिरंगा.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर संभागायुक्त अभय वर्मा ने संभागायुक्त कार्यालय में और कलेक्टर दीपक सक्सेना ने कलेक्टर कार्यालय में आयोजित समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया । जिले में स्थित राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों एवं स्थलों, शासकीय भवनों, कार्यालयों, शैक्षणिक संस्थाओं में राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया।जिला मुख्यालय में आयोजित मुख्य समारोह के साथ-साथ जिले के अनुविभागों, तहसील, विकासखण्ड, नगरीय निकायों तथा ग्राम पंचायत स्तर तक गणतंत्र दिवस समारोह आयोजित किया गया। सम्मानपूर्वक राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया।


इस ख़बर को शेयर करें