एल्गिन में सुरक्षा गार्ड की नौकरी दिलाने के नाम पर महिलाओं के साथ महिलाओं ने की धोखाधड़ी

इस ख़बर को शेयर करें

जबलपुर :एल्गिन में नौकरी दिलाने के नाम पर महिलाओं से रूपये लेकर  हडपने वाली महिलाओं के विरूद्ध पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करते हुए मामले की जांच सुरु कर दी है।

क्या है पूरा मामला
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी बरेला  जितेन्द्र पाटकर ने बताया कि दिनंाक 17-1-24 की रात्रि श्रीमती भागवती वमर्न उम्र 35 साल निवासी वाडर् नम्बर 06 बरेला ने लिखित शिकायत की कि अगस्त 2022 मे वाडर् नम्बर 06 की शिखा बमर्न उसके घर आकर बतायी कि एल्गिन अस्पताल जबलपुर मे महिला सुरक्षा गाडर् की नौकरी की भतीर् निकली है मेरी रिस्तेदार अंजली बमर्न उफर् श्वेता बमर्न एल्गिन अस्पताल जबलपुर मे 15 वषर् से नौकरी कर रही है तथा मैं भी 02 माह पहले से नौकरी कर रही हूँ, मुझे वहाँ नौकरी करने जाना नही पडता मुझे घर बैठे-बैठे 15 हजार रुपये सैलरी मिलती है। आप लोगो को नौकरी चाहिए तो प्रति व्यक्ति 7500 रूपये लगेंगे तो हम सभी महिलाओं प्रति व्यक्ति के हिसाब से 7500 रुपये शिखा वमर्न के कहने पर शिखा वमर्न एवं अंजली वमर्न को दिये , पैसा लेने अंजली एवं शिखा दोनो आती थीं। पैसा हम सभी महिलाओ ने अलग अलग दिनाॅकों को किसी ने आनलाईन तो किसी ने नगद राशि का भुगतान किया है, पैसा भुगतान के एक माह बाद जब हम लोगों द्वारा शिखा वमर्न से यह पूछा गया की नौकरी कब लगेगी तो शिखा वमर्न ने बताया की भतीर् की लिस्ट नही आयी है एक लिस्ट में 12 लगते लगते है अभी 02 लोग कम हो रहे हैं जब लोग पूरे हो जायेंगे तब लिस्ट तैयार कर भोपाल भेजी जायेगी इस प्रकार लगातार गुमराह कर झूठ बोलती रही, शिखा बमर्न द्वारा ना तो नौकरी लगायी गयी और ना ही पैसे वापस किये गये, जब भी पैसे माँगने जाती तो बहाना बनाकर टाल मटोल करती रही , अजंली वमर्न एवं शिखा वमर्न द्वारा एल्गिन अस्पताल मे नौकरी लगाने के नाम पर उससे 7500 रुपये नगद, पडोसन सुलेखा वमर्न से 10,500 रुपये, रेखा वमर्न से 7500 रुपये, ममता वमर्न से 7500 रुपये, सावित्री वमर्न से 5500 रुपये, सुमन चैधरी से 7500 रुपये, रेनू रजक से 10,500 रुपये, रेनू वमर्न से 7500 रुपये, मनीषा साहू से 10,500 रुपये एवं अन्य कई लोगांे से भी पैसे लिये हंै । शिखा वमर्न एवं अंजली वमर्न ने हम सभी महिलाआंे से लाखांे की ठगी कर  रूपये हड़पते हुये धोखाधड़ी की है।वहीं पुलिस ने लिखित शिकायत पर अनावेदिका अंजली उफर् श्वेता बमर्न एवं शिखा बमर्न के विरूध्द धारा 420, 406 भादवि का अपराध पंजीबध्द कर मामले की जांच सुरु कर दी है।

इस ख़बर को शेयर करें