आयोध्या में भंडारा,नगर में संत श्री आशारामजी गुरुकुल के विद्यार्थियों ने निकाली प्रभात फेरी 

इस ख़बर को शेयर करें

जबलपुर/छिंदवाड़ा:पूरे देश में भगवान श्री राम मन्दिर की प्राण प्रतिष्ठा की धूम है । सभी सनातनी संस्था अपने – अपने स्तर से यह महोत्सव मना रही है। आज संत श्री आशारामजी गुरुकुल के विद्यार्थियों ने प्रातः नगर में प्रभात फेरी निकाल कर सम्पूर्ण वातावरण को राममय किया । सभी साधकों ने अपने – अपने घर पर ध्वजा लगाई और दीप जलाया।

अयोध्या जाने वाले श्रद्धालु भक्तों के लिए भोजन प्रसाद का वितरण 

अखिल भारतीय श्री योग वेदांत सेवा समिति के साधकों ने 19 जनवरी से अयोध्या में आने – जाने वाले श्रद्धालु भक्तों को आश्रम द्वारा निर्मित ओजस्वी चाय और भोजन प्रसाद का वितरण किया ।यह भंडारा आयोजन 24 जनवरी तक जारी रहेगा जिसमे लाखों श्रद्धालुओं के भोजन की व्यवस्था की गई है । इस अवसर पर समिति के मीडिया प्रभारी भगवानदीन साहू ने बताया कि भगवान श्रीराम के गुरु वशिष्ठ जी हैं और वो ब्रह्मज्ञानी सन्त थे। श्रीराम जी उनका बहुत आदर सम्मान करते थे उनकी आज्ञानुसार कार्य करते थे । वही सन्त श्री आशारामजी बापू भी ब्रह्मज्ञानी सन्त हैं। वर्तमान में उनके साथ जानबूझकर दुर्भावनावश बहुत ज्यादा भेदभाव हो रहा है। वे अभी जोधपुर एम्स में भर्ती हैं। प्रशासन द्वारा एक ओर निर्दोष संत को जेल में रखना और दूसरी तरफ़ राम राज्य की बात करना बेईमानी है । सरकार को इस पर तत्काल अनिवार्य रूप से विचार करना चाहिए ।

वहीँ अयोध्या में जारी भंडारे और प्रभात फेरी में सेवा देने वालों में साध्वी नीलू बहन , समिति के अध्यक्ष मदनमोहन परसाई , खजरी आश्रम के संचालक जयराम भाई , गुरुकुल की संचालिका दर्शना खट्टर , युवा सेवा संघ के अध्यक्ष दीपक डोईफोड़े , विशाल चवुत्रे , गेंदराव कराड़े , सोमनाथ पवार , सुशील सिंह परिहार , महिला समिति से सुमन डोईफोड़े , छाया सूर्यवंशी , कल्पना सोनी , डॉ. मीरा पराड़कर , शकुंतला कराड़े प्रमुख हैं ।

 


इस ख़बर को शेयर करें