24 घँटे के अंदर अंधी हत्या का खुलासा,पहले बियर पिलाई ,फिर कर दी थी युवक की हत्या

 

जबलपुर :थाना संजीवनी नगर अंतर्गत हुई युवक की  अंधी हत्या का पुलिस ने  24 घंटे के अंदर खुलासा करते हुए ,14 वर्षिय किशोर सहित 3 आरोपियों को  पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि  फरार 2 आरोपियों की तलाश की जा रही है,गिरफ्तार आरोपियों में 1-अम्मू उर्फ आकाश साहू पिता राजकुमार साहू उम्र 19 वर्ष निवासी तिलहरी फेस 1 गोराबाजार2-सुनील ठाकुर पिता धनीराम ठाकुर उम्र 20 वर्ष निवासी तिलहरी फेस 1 गोराबाजार
3-14 वर्षिय किशोर

फरार आरोपी* – 1- हेमेंत उर्फ शानू पिता कृष्णकुमार दुबे उम्र 20 वर्ष निवासी देवताल गढा,
2- आदि उर्फ आदित्य कोरी पिता दया राम उम्र 19 वर्ष निवासी सेवक किराना के पास घमापुर

ये है मामला,

थाना संजीवनी नगर में दिनाॅक 10-2-21 को सुबह लगभग 11 बजे संतोष कुमार समद उम्र 28 वर्ष निवासी एलआईसी गली गढा द्वारा सूचना दी गयी कि भूलन में नाला एवं रेल्वे पटरी के बीच झाडियों के पास एक अज्ञात युवक का शव पड़ा है। सूचना पर तत्काल हमराह स्टाफ को लेकर पहुंची, एवं देखी तो नाला एवं रेल्वे पटरी के बीच झाडियों के पास एक अज्ञात लड़का मृत अवस्था मे पड़ा दिखा, अज्ञात मृतक जिसकी उम्र लगभग 20-21 वर्ष थी की गर्दन, छाती, पेट, कमर, एवं हाथों में धारदार हथियार की चोट थी। वहीँ एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध  गोपाल खाण्डेल, नगर पुलिस अधीक्षक गोरखपुर  आलोक शर्मा, एफएसएल अधिकारी डाॅक्टर सुनीता तिवारी, डाॅग स्क्वाड, फोटो ग्राफर मौके पर पहुंचे।
वरिष्ठ अधिकारियों एवं एफ.एस.एल. टीम की उपस्थति में पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये अज्ञात आरोपी के द्वारा धारदार हथियार से हमला कर हत्या करना पाया जाने पर धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया। अज्ञात मृतक की शिनाख्तगी के सम्बंध में सभी थानों को वायरलैस सैट के माध्यम से सूचित करते हुये आसपास के गाॅवों में अज्ञात मृतक की शिनाख्तगी के प्रयास किये गये जिस पर मृतक की शिनाख्त दोस्तों एवं परिजनों के द्वारा राहुल पिता रमेश कोरी उम्र 19 वर्ष निवासी बम्बादेवी बल्दी कोरी की दफाई थाना घमापुर के रूप मे की गयी एवं बताया कि मृतक अपने चाचा के साथ इलेक्ट्रीशियन का काम करता था, दिनाॅक 9-2-21 की रात लगभग 9-30 बजे दोस्तों के साथ घर से निकला था उसके बाद से घर नही लौटा था।

ऐसे बनाई थी हत्या की योजना,

वहीँ पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा
गठित टीम द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत दौरान विवेचना के पतासाजी की गयी तो ज्ञात हुआ कि तिलहरी फेस 1 गोराबाजार निवासी मृतक का दोस्त अम्मू उर्फ आकाश साहू एक 14 वर्षिय किशोर के साथ मृतक राहुल कोरी के घर बम्बादेवी बल्दीकोरी की दफाई गया था, जिनके साथ मृतक राहुल कोरी अपनी मोटर सायकिल से एवं अम्मू उर्फ आकाश साहू अपनी मोटर सायकिल में 14 वर्षिय किशोर को बैठाकर निकले थे यह जानकारी लगते ही सरगर्मी से तलाश कर अम्मू उर्फ आकाश साहू उम्र 19 वर्ष एवं 14 वर्षिय किशोर को सरगर्मी से तलाश कर अभिरक्षा मे लेते हुये सघन पूछताछ की गयी तो पाया गया कि 14 वर्षिय किशोर के घर पर देवताल गढा निवासी प्रेमी शानू दुबे उर्फ हेमंत उम्र 20 वर्ष निवासी देवताल गढा का काफी आना जाना था, मृतक राहुल भी 14 वर्षिय किशोर का दोस्त था जिसका भी घर पर आना जाना था, राहुल ने 14 वर्षिय किशोर की माॅ एवं प्रेमी शानू दुबे की फोटो वायरल कर दी थी, जिस कारण 14 वर्षिय किशोर एवं शानू उर्फ हेमंत दुबे ने अपने दोस्त तिलहरी फेस 1 गोराबाजार निवासी सुनील ठाकुर उम्र 20 वर्ष तथा आदि उर्फ आदित्य कोरी उम्र 19 वर्ष निवासी सेवक किराना स्टोर के पास घमापुर के साथ मिलकर राहुल कोरी की हत्या करने की योजना बनाई और योजना के मुताबिक शानू दुबे के कहने पर घटना दिनाॅक 9-2-21 को अम्मू साहू एवं 14 वर्षिय किशोर राहुल कोरी को अपने साथ लेकर संजीवनी नगर कलारी पहुंचे एवं बियरी खरीदी तथा बियर लेकर 2 मोटर सायकिलों में भूलन रेल्वे ट्रेैक के किनारे झाडियो के पास पहुंचे और बीयर पीते समय अचानक शानू दुब, सुनील ठाकुर एवं आदित्य कोरी ने राहुल कोरी पर गले, छाती, पेट, कमर, आदि मे कई वार कर दिये जिससे कुछ ही देर मे राहुल कोरी की मृत्यु हो गयी। अम्मू उर्फ आकाश साहू, सुनील ठाकुर एवं 14 वर्षिय किशोर को अभिरक्षा मे लेते हुये घटना मे प्रयुक्त अम्मू की मोटर सायकिल एवं 1 चाकू जप्त करते हुये फरार प्रेमी शानू उर्फ हेमंत दुबे एवं आदि उर्फ आदित्य कोरी की सरगर्मी से तलाश जारी है।

*उल्लेखनीय भूमिका* – अंधी हत्या का खुलासा करते हुये आरोपियों की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी संजीवनी नगर  भूमेश्वरी चैहान, उप निरीक्षक सत्यनारायण कुशवाहा, सचिन वर्मा, सहायक उप निरीक्षक विनोद दुबे, दानी सिंह नर्ते, राजेन्द्र जोशी आरक्षक छत्रपाल, बालमुकुन्द, राजेश मिश्रा, राहुल, अजय, विक्रम धाकड़ तथा क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक विजय शुक्ला, धनंजय सिंह की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: