6 माह से पानी की किल्लत,खेतो से ढोकर लाना पड़ रहा पेयजल

कटनी/स्लीमनाबाद (सुग्रीव यादव): ग्रीष्म काल समय शुरू होते बहोरीबंद विकासखण्ड मैं पेयजल संकट शुरू हो गया है।जिससे ग्रामीणजनों को पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है।पेयजल संकट की वर्तमान स्थिति बहोरीबंद जनपद की ग्राम पंचायत मोहनिया(नीम) की सामने आई है।जहाँ पंचायत के वार्ड क्रमांक 5 व 6 के निवासी पेयजल के लिए परेशान है।वार्ड मैं दो हैंडपंप लगे है जिसमे एक तो 6 माह से बंद पड़ा है दूसरा जलस्तर की कमी के चलते पानी कम आ रहा है।ग्रामीण गज्जी कोल,गजेंद्र कोल,सुखी लाल कोल,रूपलाल कोल,उत्तम कोल,लवकुश कोल,सीमा बाई, सरोज बाई ने बताया कि ग्राम पंचायत भवन के पास लगा हेंडपम्प विगत 4 माह से बंद पड़ा हुआ है।सुधारकार्य के लिए न ही ग्राम पंचायत ध्यान दे रही है न ही पीएचई विभाग।जिससे पेयजल के लिए वार्डवासियों को 1 किलोमीटर दूर खेतो से पानी लाना पड़ रहा है।शिकायत के वाबजूद भी ध्यान नही दिया जा रहा है।जबकि अभी मार्च माह आगे अप्रेल ,मई व जून माह मैं भीषण गर्मी पड़ेगी तब और भारी विकराल पेयजल संकट गहरा जाएगा।ग्रामीणों ने बताया कि ग्रीष्मकालीन समय मैं जलस्तर की समस्या हर वर्ष उतपन्न होती है।

इनका कहना है- विकल्प पटेल एसडीओ पीएचई स्लीमनाबाद
ग्राम पंचायत मोहनिया(नीम) के वार्ड क्रमांक 5 व 6 मैं हेंडपम्प बंद होने का मामला संज्ञान मैं आया है।कर्मचारियों के दल को भेजकर सुधारकार्य करवाया जाएगा ।

शेयर करें: