मंझोली की रिवझा पँचायत में सचिव पर ग्रामीणों ने लगाए गम्भीर आरोप ,देखें वीडियो

 

जबलपुर :जब एक सरकारी कर्मचारी ही सरकार के स्वच्छता मिशन में बाधक बन जाये तो इसको आप क्या कहेंगे ,एक तरफ तो सरकार स्वच्छता मिशन में पानी की तरह पैसे खर्च कर रही है ,लेकिन कुछ सरकारी कर्मचारी अपने पद का दुरुपयोग कर सरकार के स्वच्छता मिशन पर पानी फेरने का काम कर रहे है,जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण ग्राम पंचायत के बगल से लगी बजबजाती नाली देखकर ही लगाया जा सकता है,लोगों का आरोप है की एक तो सचिव के दर्शन पँचायत में दुर्लभ होते है लेकिन हाल ही वैक्सीन लगने के समय वे पँचायत आई तो कुछ लोगों सहित सरपंच द्वारा खुद ग्राम की सफाई सहित आंगनवाड़ी केंद्र की बाउंड्री निर्माण की बात की गई तो सचिव ने टाल दिया,

देखें वीडियो क्या आरोप है सचिव पर 

मामला जबलपुर जिले की मंझोली जनपद की रिवझा पँचायत का है जहां पर ग्रामीणों ने ग्राम सचिव पर गम्भीर आरोप लगाए है,ग्रामीणों का आरोप है की ,सरकारी कार्यक्रम छोड़कर सचिव कब पँचायत आती है कब जाती है ये किसी को पता नहीं चलता ,जिससे ग्रामीणों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है,इस सबंध में ग्राम सरपंच पवन सिंह राजपूत से जब हमने बात की तो उन्होंने कहा की सचिव की बजह से स्वच्छता ही नहीं पूरे ग्राम का विकाश रुक गया है, सचिव हर चीज के बस कमीशन मांगती है, यहाँ तक की सरपंच के मानदेय की राशि मे भी उसको कमीशन चाहिए, अब ऐसे सचिव पर सरपंच सहित अन्य ग्रामीणों ने कार्यवाही की मांग करते हुए ग्राम से हटाने की मांग की है,

शेयर करें: