दो छात्रों ने शौक पूरा करने चुना जुर्म का ये रास्ता 

 

 

जबलपुर :शौक पूरा करने के चक्कर में दो छात्रों ने एटीएम मशीन तोड़कर पैसे चुराना चाहा लेकिन पैसे चुराने में विफल हो गए,वारदात के बाद पुलिस ने 24 घँटे के अंदर 11 वीं पढ़ने वाले दोनों 17 वर्षीय छात्रों को हिरासत में लेकर किशोर न्यायालय में पेश किया गया,

ये है पूरा मामला,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना रांझी में दिनांक 15-2-21 की दोपहर में मनीष कोष्टा उम्र 37 वर्ष निवासी दमोहनाका ने लिखित शिकायत की थी कि वह ओरियंट सर्विस कम्पनी में सुपर वाईजर है जबलपुर में स्टेट बैंक आॅफ इंडिया शोभापुर फाटक पुल के पास एटीएम मशीन लगी है जिसमें गार्ड महेन्द्र नामदेव जो रात लगभग 10 बजे से सुवह 6 बजे तक रहता है जिसने रात में उसे बताया कि मेरी तबियत अचानक खराब हो गयी है ईलाज के लिये जा रहा हूॅं, आज सुवह उसे पता चला कि एटीएम मशीन में अज्ञात व्यक्ति द्वारा तोडफोड की गयी है, उसने जाकर एटीएम की मशीन देखी , दरम्यिानी रात में अज्ञात व्यक्ति द्वारा एटीएम मशीन को तोड़कर चोरी करने का प्रयास किया है जिससे मशीन छतिग्रस्त हुयी है, कैश चोरी नहीं हुआ है। शिकायत पर धारा 457, 511, 427 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।
*पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये शीघ्र पतासाजी कर गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर श्री अमित कुमार (भा.पु.से.) एवं नगर पुलिस अधीक्षक रांझी मोहम्मद इसरार मंसूरी द्वारा थाना प्रभारी रांझी श्री आर.के. मालवीय के नेतृत्व में टीम गठित कर लगायी गयी।
गठित टीम के द्वारा सी.सी.टी.व्ही फुटेज खंगाले गये, मिले फुटेज के आधार पर पतासाजी करते हुये विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर संदेही 11वीं में पढने वाले दो 17 वर्षिय किशोरों को अभिरक्षा मे लेते हुये पूछताछ की तो दोनों किशोंरो नंे अपने शौक को पूरा करने के लिये योजना बनाकर एटीएम से पैसे चुराने के उद्देश्य से एटीएम मे कुदाली एवं राॅडनुमा सब्बल से तोड़फोड करना स्वीकार किया। आरोपियों की निशादेही पर शोभापुर अंडर ब्रिज के पास झाडियों में छुपायी हुई कुदाली एवं सब्बलनुमा राॅड तथा घटना के वक्त पहने हुये कपड़े जो घटना कारित करने के बाद पहचाने न जायें चेंज कर पिट्ठू बैग मे रखते हुये दूसरे कपड़े पहन लिये थे को एवं मोटर सायकिल जप्त करते हुये दोनों को हिरासत मे लेकर किशोर न्यायालय पेश किया गया, दोनों को मान्नीय न्यायालय के निर्देशानुसार बाल संप्रेक्षण गृह में निरुद्ध कराया गया है।
*उल्लेखनीय भूमिका-* पतासाजी कर चोरी करने के उद्देश्य से एटीएम मे तोडफोड करने वाले दोनों 17 वर्षिय किशोरों को पकडने मे थाना प्रभारी रांझी  आर.के. मालवीय के नेतृत्व में गठित टीम के उप निरीक्षक आर.डी. रघुवंशी, प्रधान आरक्षक राजेश मिश्रा, आरक्षक साकेत, अविनाश की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: