धोखाधड़ी:लोन दिलाने के नाम पर दो लाख अस्सी हजार हड़पने वाले दो आरोपी गिरफ्तार 

 

 

 

जबलपुर:लोन दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी कर 2 लाख 80 हजार रूपये हड़पने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

ये है पूरा मामला,

थाना प्रभारी ओमती  एस.पी.एस. बघेल ने बताया कि दिनंाक 25-2-21 की शाम लगभग 7-45 बजे शिवम चैरसिया उम्र 21 वर्ष निवासी एमपी स्पोर्ट के बाजु वाली गली अंधेरदेव ने रिपोर्ट दर्ज करायी कि वह व्यवसाय करता है करमचंद चैक मे चैरसिया गुडबुल हाउस एण्ड हार्ड वेयर नाम से दुकान है दुकान में उसके पापा एव मम्मी बैठते हैं , अनूप यादव निवासी नया मौहल्ला का प्रापर्टी एवं लोन दिलाने का काम करता है ने संदीप चैबे निवासी घाना खम्हरिया से पिछले वर्ष जनवरी में उसे मिलवाया था तथा बताया था कि लोन का काम करवाते हैं प्रापर्टी का काम भी करवाते हैं, उसे उसकी दुकान के लिये 10 लाख रूपये के लोन की आवश्यकता थी उसने प्रधानमंत्री रोजगार योजना का फार्म जामदार अस्पताल के सामने एमपी आनलाईन से सितम्बर माह में भरा था वह अकेला फार्म भरने गया था, अनूप यादव , संदीप चैबे ने उससे कहा कि 10 लाख के कर्ज में 2 लाख 50 हजार रूपये जो सब्सीडी मिलेगी वह हम लोग रखेंगें, दोनों ने उससे पहले प्रोजेक्ट रिपोर्ट के लिये 20 हजार रूपये फिर एक सप्ताह बाद 40 हजार रूपये, फिर 15-20 दिन बाद 10-10 हजार की 3 किस्त उसके बाद 15 हजार रूपये लिये, 50 हजार रूपये अनूप यादव को दिया फिर संदीप चैबे उससे एक लाख रूपये मांगने लगा तो उसने 30 हजार रूपये दिये थे फिर 15 दिन बाद उसकी दुकान के पास स्थित चाय वाले के यहां 30 हजार रूपये दिया, इसके बाद अधारताल कमला भण्डार के पीछे फैक्ट्री में 20-20 हजार रूपये 2 बार दिया, इसके बाद कैनेरा बैंक जो ज्योति टाकीज के सामने है मेे संदीप चैबे कोे 10 हजार रूपये दिये थ्ेा फिर 10-10 हजार रूपये 2 बार दिये थे इस तरह दोनों को कुल 2 लाख 80 हजार रूपये दिया था, जब लोन नही मिला तो अनूप यादव के रसल चैक स्थित आफिस जाकर कहा कि उसका लोन सैंग्शन नही हुआ है आप लोगों का इतना पैसा दिया उसकी गारंटी चाहिये तो अनूप यादव ने 1 लाख 50 हजार रूपये का चैक स्टेट बैंक का उसे दिया था तथा बोला की संदीप चैबे से 1 लाख 30 हजार रूपये का चैक ले लेना जब वह संदीप की फैक्ट्री गया तो मकान मालिक ने बताया कि संदीप फैक्ट्री बंद करके चला गया है, फोन करने पर दोनों मोबाइल नम्बर बंद पाये गये, वह संदीप के घर खम्हरिया घाना गया तो संदीप के पिता मिले उन्हौंने कहा कि लोन नही होगा तो तुम्हारे पैसे वापस दे दूंगा, फिर शाम को संदीप ने कहा कि चैक लगाकर बाउंस करवा लो कोर्ट से अपना पेैस ले लेना, उसने संदीप की शिकायत अनूप से की तो अनूप यादव ने उसे गाली गलौज कर भगा दिया बोला पैसा नहंीं दूंगा, भाग जाओ चुकतानामा का जो एफीडेविड दोनों लोगों ने बनाया है वह फर्जी है, उसने पूरा पैसा लोन करवाने के लिये दिया था । रिपेार्ट पर धारा 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी अनूप यादव उम्र 45 वर्ष निवासी नया मोहल्ला ओमती एवं संदीप चैबे उम्र 35 वर्ष निवासी घाना खमरिया को सरगर्मी से तलाश कर अभिरक्षा मे लेते हुये पूछताछ करते हुये विधिवत कार्यवाही की जा रही है।

शेयर करें: