जिला समन्वय एवं निगरानी समिति ‘दिशा’ की बैठक संपन्न,हुए ये निर्णय

जबलपुर,सांसद  राकेश सिंह की अध्यक्षता में आज जिला समन्वय एवं निगरानी समिति ‘दिशा’ की बैठक कलेक्टर सभागार में आयोजित की गई। इस दौरान विधायक श्री अजय विश्नोई, श्री सुशील इंदु तिवारी, श्री अशोक रोहाणी, श्रीमती नंदनी मरावी, श्री तरुण भानोट,श्री लखन घनघोरिया, श्री विनय सक्सेना और श्री संजय यादव सहित कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी., पुलिस अधीक्षक श्री सिद्धार्थ बहुगुणा, नगर निगम कमिश्नर श्री आशीष वशिष्ठ, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. सलोनी सिडाना, अपर कलेक्टर श्री शेर सिंह मीणा व सुश्री विमलेश सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की गई, जिसमें मुख्य रुप से जबलपुर जिले के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के अंतर्गत प्रधान प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि एवं स्ट्रीट वेंडर योजना, आयुष्मान भारत और जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा की गई। इसके अलावा अध्यक्ष की अनुमति से ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की स्थिति में सुधार,स्वास्थ्य केंद्रों व राशन दुकानों के बेहतर संचालन पर भी चर्चा हुई।
बैठक के दौरान विधायक श्री विश्नोई ने कहा कि जल जीवन मिशन अंतर्गत घरों में दिये जा रहे नल कनेक्शन में अच्छी क्वालिटी के पाइप लगे और मिशन के अंतर्गत किये जा रहे कार्यों की जानकारी जनप्रतिनिधियों को भी हो। उन्होंने मनरेगा के भुगतान, नहरों की सिल्ट मनरेगा से हटाने के साथ पीएम आवास के लिए पोर्टल पर नाम चढ़ाने की चर्चा की।
विधायक श्री तिवारी ने कहा कि पीएम आवास की तृतीय किस्त का भुगतान समय पर हो जाए। इसके साथ उन्होंने आवासीय पट्टे के संबंध में भी चर्चा की। विधायक श्री रोहाणी ने कहा कि पीएम आवास में पर्याप्त सुविधाएं हो, इसके साथ-साथ दूसरी किस्त किन-किन लोगों को मिलना मिला है वह मिल जाए और जिन लोगों को आयुष्मान कार्ड की जरूरत है उनके कार्ड बन जाए ।इसके साथ उन्होंने स्टेट वेंडर योजना का लाभ सभी पात्र हितग्राहियों को देने को कहा।
विधायक श्रीमती मरावी ने कहा कि लोगों को पीएम आवास मिल जाए और जल जीवन मिशन अंतर्गत जो ठेकेदार कार्य छोड़कर भाग गए हैं, उन पर कार्यवाही हो।
विधायक श्री घनघोरिया ने कहा कि गर्मियों में जल संकट की स्थिति हो सकती है, इसलिए पाइपलाइन व्यवस्थित हो जाए और यदि ट्यूबवेल के पंप यदि खराब होते है तो उन्हें जल्दी ठीक किया जाए क्योंकि जल संकट से कभी-कभी अपराध भी होते हैं। उन्होंने जल सप्लाई व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बारिश के समय कुछ क्षेत्रों में जल प्लावन की स्थिति बन जाती है, अतः उसके निराकरण की दिशा में कार्य हो। उन्होंने शहरी क्षेत्र के गलियों में विद्युतीकरण को लेकर भी चर्चा की। विधायक श्री संजय यादव ने बरगी उद्वहन सिंचाई योजना, जल जीवन मिशन, ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की स्थिति को बेहतर करने के साथ स्वास्थ्य केंद्र व राशन दुकानों के बेहतर संचालन पर जोर दिया।
सांसद श्री सिंह ने बैठक में सभी की बातों को गंभीरता पूर्वक सुनने के बाद संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए की जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाए गई समस्याओं का समुचित निराकरण हो। उन्होंने कहा कि शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं के क्रियान्वयन तत्परता से हो। प्रारंभ में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बैठक के एजेंडे के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी, वही कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा ने बैठक के दौरान उठाई गई समस्याओं का समुचित निराकरण करने का आवश्यक दिया।

शेयर करें: