कलेक्टर ने किसानों से की चर्चा,बोले खरीदी गई मूंग और उड़द का पूरा-पूरा हिसाब लिया जाये 

 

पाटन  मंडी का किया निरीक्षण

जबलपुर :कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने आज पाटन पहुंचकर कृषि उपज मंडी का निरीक्षण किया तथा व्यापारियों द्वारा किसानों से खरीदी गई मूंग और उड़द का सत्यापन करने के निर्देश एसडीएम एवं तहसीलदार को दिये। श्री शर्मा ने निरीक्षण के दौरान व्यापारियों की दुकानों एवं गोदामों में रखी मूंग और उड़द का खरीदी गई मात्रा से मिलान करने के निर्देश भी दिये हैं । उन्होंने कहा कि व्यापारियों द्वारा किसानों से खरीदी गई मूंग अनुचित लाभ कमाने के उद्देश्य से उपार्जन केंद्रों तक न पहुँचे इसके लिये यह जरूरी है कि मंडियों में किसानों से खरीदी गई मूंग और उड़द का पूरा-पूरा हिसाब लिया जाये । श्री शर्मा ने किसानों की आड़ में उपार्जन व्यवस्था का अनुचित लाभ उठाने की कोशिश करने वाले व्यापारियों एवं बिचौलियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने की हिदायत भी अधिकारियों को दी है । उन्होंने मंडियों में व्यापारियों को मूंग और उड़द बेचने वाले किसानों की सूची प्राप्त कर उसका उपार्जन केंद्रों पर मूंग और उड़द बेचने वाले किसानों की सूची से मिलान और क्रॉस व्हेरीफिकेशन करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये । श्री शर्मा ने निरीक्षण के दौरान पाटन मंडी में मिले नि:शक्त श्री युगल किशोर को ट्राई साइकिल प्रदान करने के निर्देश दिये।

शहपुरा के सरोंद खरीदी केन्द्र का भी किया निरीक्षण

कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने कृषि उपज मंडी पाटन के बाद सरोंद स्थित गोदाम व समीपस्थ उपार्जन केन्द्र का निरीक्षण भी किया। इस मौके पर उन्होंने उपार्जन केन्द्र में मूंग और उड़द बेच चुके किसान सहित सभी पंजीकृत किसानों के रकबे का पूर्ण सत्यापन करने की हिदायत अधिकारियों को दी। श्री शर्मा ने इस उपार्जन केन्द्र में किसानों से अब तक खरीदी गई मूंग एवं उड़द का ब्यौरा भी लिया तथा गोदाम में रखी उपज के बारे में जानकारी भी प्राप्त की। इस दौरान अनियमितता की आशंका पर उन्होंने खरीदी केन्द्र प्रभारी, समिति प्रबंधक और कम्प्यूटर ऑपरेटर को नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिये।

ग्वारी पहुंचकर मूंग उड़द के संबंध में किसानों से चर्चा की

कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने पाटन भ्रमण के मौके पर ग्राम ग्वारी पहुंचकर वहां के किसानों से चर्चा की तथा उनमें मूंग और उड़द के रकबों एवं उत्पादन के बारे में जानकारी प्राप्त की। श्री शर्मा ने मूंग और उड़द की फसल लेने वाले किसानों को आश्वस्त किया कि तकनीकी वजहों से बंद पोर्टल के चालू होते ही उनकी पूरी उपज का समर्थन मूल्य पर उपार्जन किया जायेगा। उन्होंने मौके पर मौजूद राजस्व अधिकारियों को मूंग और उड़द के उपार्जन के लिये पंजीयन कराने वाले हर एक किसान के रकबे का पुर्न सत्यापन करने के निर्देश भी दिये। साथ ही एसडीएम पाटन को लोहारी स्थित गोदाम का निरीक्षण करने तथा अनियमितता मिलने पर तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने किया किसरोंद साईंकृपा खरीदी केन्द्र का निरीक्षण

कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने पाटन के बाद शाहपुरा का दौरा किया।इस दौरान मूंग-उडद खरीदी केंद्र किसरोंद सांईकृपा शाहपुरा का निरीक्षण कर खरीदी केंद्र प्रभारी व ऑपरेटर को निर्देश कि खरीदी में अनियमितता न हो,व्यापारी या बिचौलिए के मूंग उडद न आये। यदि मिलीभगत सामने आती है तो कालाबजारी अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी। एसडीएम व तहसीलदार को निर्देश दिये कि जिन किसानों के अभी खरीदी नही की गई है उन किसानो के भौतिक सत्यापन कराये।मंडियों का क्रॉस वेरिफिकेशन करें। जो बेचने के लिये मूंग उडद लाने वाले हैं उनका स्टॉक का भी सत्यापन करें। जैसे ही पोर्टल चालू हो है सभी पात्र किसानों के एफएक्यू मूंग और उड़द की खरीदी की जावेगी,

  1. किसरोंद के किसानों से मूंग-उड़द के सत्यापन के संबंध में चर्चा
  2. कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने शाहपुरा ब्लॉक के किसरोंद गांव में जाकर बड़े किसानों का मूंग उडद के उत्पादन की जानकारी ली तथा रकबा व स्टॉक का सत्यापन किया। उन्होंने किसानों से चर्चा के दौरान स्पष्ट किया कि मूंग और उड़द के रकबे के पूर्ण सत्यापन का मकसद सिर्फ व्यापारियों और बिचौलियों को उपार्जन व्यवस्था का अनुचित लाभ लेने से रोकना है। उन्होंने साफ किया कि मूंग और उड़द की फसल लेने वाले किसानों को इससे किसी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं है। श्री शर्मा ने कहा कि पोर्टल चालू होते ही वास्तविक किसानों से एफएक्यू क्वालिटी की उनकी पूरी-पूरी उपज का उपार्जन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मूंग और उड़द के उपार्जन का कार्य 15 सितम्बर तक जारी रहेगा। इस दौरान शाहपुरा एस डी एम श्री अनुराग तिवारी,तहसीलदार शाहपुरा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

शेयर करें: