माँ का अंतिम संस्कार करने गए बेटे ने मुक्तिधाम में तोड़ा दम,दोनों की एक साथ जलीं चिताएं 

 

जबलपुर :माँ का अंतिम संस्कार करने गए बेटे की माँ की चिता जलने के पहले ही मुक्तिधाम में मौत हो गई बाद में परिजनों और ग्रामीणों ने माँ बेटे दोनों का एक साथ अंतिम संस्कार किया ,मामला जबलपुर के रांझी बड़ा पत्थर मुक्तिधाम का है ,जहाँ पर आज सर्रा पीपल शहीद भगत सिंह वार्ड में हृदय विदारक घटना घटित हुई अपनी मां का अंतिम संस्कार करने पहुंचें पुत्र ने मुक्तिधाम में ही  अंतिम स्वॉस ली मां एवं बेटे का एक ही साथ अंतिम संस्कार क्षेत्रीय जनों के सहयोग से किया गया इस घटना को देखकर ह्रदय स्तब्ध रह गया कोरोना की मार ऐसी होगी कभी सोचा भी नहीं था बताया जा रहा है की म्रतक कालीचरण विश्वकर्मा अपनी माँ श्रीमती पुनिया बाई का अंतिम संस्कार करने गए थे लेकिन अचानक उनकी मुक्तिधाम में ही मौत हो गई

 

शेयर करें: