राजस्व वसूलने में सिहोरा नगर पालिका  फिसड्डी ,केेरोडों  का बकाया

 

जबलपुर,फाइनेंशियल ईयर 20-21 की क्लोजिंग मंथ के चलते नगर पालिका में आपाधापी का माहौल है मार्च माह के चंद दिन शेष हैं एवं वर्तमान सहित पिछला करोड़ों रुपए का टैक्स वसूलना अभी बाकी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार चालू वर्ष का प्रस्तावित कर 2 करोड रुपए में से लगभग 60% की ही वसूली हो पाई है इसी प्रकार पिछला बकाया एक करोड़ 60 लाख में ऐसे कुल 40% कर की वसूली हो सकी है। कोरोना काल से बंद पड़ी आर्थिक गतिविधियों के कारण कर्मचारियों को टैक्स वसूलने में काफी मशक्कत करना पड़ रही है। उल्लेखनीय है कि
जिले की महत्वपूर्ण एवं ऐतिहासिक नपा सिहोरा का गठन वर्ष 1867 में हुआ था। लगभग 155 साल पुरानी नपा सिहोरा की आबादी 70 हजार से अधिक बताई गई है। नपा के द्वारा शहर में विभिन्न प्रकार के विकास कार्य कराए जाते हैं। वहीं प्रतिमाह वेतन एवं खर्चों के लिए नपा लोगों से प्राप्त विभिन्न प्रकार के करों पर आश्रित रहती है। लेकिन सूत्रों की जानकारी के अनुसार नगर पालिका पर संपत्तिकर, जलकर, दुकानों का किराया मिलाकर करोड़ों की राशि बकाया है। लोग नियमति कर जमा नहीं करते। इसका प्रभाव नपा के अनेक विकास कार्यों एवं जरूरी व्यय पर पड़ता है। बीते दिनों लोक अदालत में भी रखे गए प्रकरणों में से कुछ का निराकर हो सका। नपा कर्मियों ने बताया है कि करों की वसूली कम होने को लेकर दो टीमों का गठन किया गया है। जिसमें प्रतिदिन बकायादारों के घरों घर जाकर कर वसूली के प्रयास किए जा रहे हैं। नगर के सभी 18 वार्ड के बकायादारों के यहां उक्त टीम के लोग पहुंचेंगे एवं जलकर, संपत्ति कर एवं दुकान किराया जो भी बकाया है उसे जमा कराने का आग्रह कर रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि पूर्व में नपा द्वारा चुंगी वसूली की जाती थी। जिसे प्रदेश भर में बंद कर दिया गया है। इसके ऐवज में चुंगी क्षतिपूर्ति राशि प्रदान की जाती है। लेकिन नपा सबसे अधिक जनता से प्राप्त करों पर आश्रित होती है। नगर पालिका द्वारा स्वच्छता से लेकर पेयजल आपूर्ति, स्ट्रीट लाईट, विकास कार्य आदि अनेक सुविधाएं देती है। लोगों से उन्होंने अपील की है कि नगर हित में सभी लोग अपने बकाया करों का भुगतान कर नगर विकास में सहभागी बनें।
इनका कहना है
राजस्व वसूली का टारगेट कर्मचारियों को दिया गया है। लक्ष्य प्राप्ति ना होने पर वार्ड प्रभारी एवं राजस्व निरीक्षकों को नोटिस जारी करते हुए राजस्व शाखा का फरवरी माह का वेतन भी रोक दिया गया है।
जय श्री चौहान
मुख्य नगरपालिका अधिकारी सिहोरा

शेयर करें: