नवरात्रि में रंगों और भोग का महत्व



ज्योतिषचार्य, निधिराज त्रिपाठी,नवरात्रि के 9 दिनों में माँ को अलग-अलग भोग अर्पित किए ही जाते हैं। साथ ही माँ दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए उनके भक्त रंगीन वस्त्र धारण कर उनकी पूजा करते हैं। यहां हम आपको बता दें कि जिस तरह से नवरात्रि के हर एक दिन अलग-अलग देवी को समर्पित माना गया है ठीक उसी तरह से हर देवी का प्रिय भोग अलग होता है साथ ही उन्हें प्रसन्न करने के लिए किए जाने वाले रंगों का इस्तेमाल भी अलग होता है।

तो आइए आगे बढ़ते हैं और जान लेते हैं नवरात्रि में किस दिन कौन सी देवी को किस चीज का भोग लगाना और कौन से रंग के वस्त्र पहनना आपके लिए शुभ साबित हो सकता है।

माँ दुर्गा के विभिन्न स्वरूप उनका प्रिय रंग उनका मनपसंदीदा भोग
माँ शैलपुत्री पीला रंग गाय के घी से बनी सफेद चीजों, सफेद मिठाई का भोग लगाएं।
माँ ब्रह्मचारिणी हरा रंग मिश्री, चीनी, और पंचामृत का भोग लगाएं।
माँ चंद्रघंटा ग्रे स्लेटी रंग दूध और दूध से बनी वस्तुओं का भोग लगाएं।
माँ कुष्मांडा नारंगी रंग मालपुए का भोग लगाएं।
माँ स्कंदमाता सफेद रंग केले का भोग लगाएं।
माँ कात्यायनी लाल रंग शहद का भोग लगाएं।
माँ कालरात्रि नीला रंग गुड़ का नैवेद्य पूजा में शामिल करें।
माँ महागौरी गुलाबी रंग नारियल और नारियल से बनी वस्तुओं का भोग लगाएं।
माँ सिद्धिदात्री बैंगनी रंग हलवा चना पूरी खीर का भोग लगाएं।

शेयर करें: