थाना से एसआई मरावी बोल रहा हूँ इतना पैसा मुझे दे दो नहीं तो जाना होगा जेल..

 

 

 

जबलपुर:एक अपराधी ने खुद को पुलिस अधिकारी बताकर फर्जीवाड़ा करते हुए न सिर्फ फरियादी बल्कि कानून व्यवस्था को चुनोती दी और यह कहते हुए की में थाना से एसआई मरावी बोल रहा हूँ इतना पैसा मुझे दे दो नहीं तो जाना होगा जेल यह कहने वाले  आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

 

ये है पूरा मामला,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना गढ़ा में आकाश मल्लाह उम्र 22 वर्ष निवासी सर्वेन्ट क्वाटर गढ़ा ने लिखित शिकायत की वह प्राईवेट बार्डवाॅय का काम करता है दिनाक 17-2-21 की शाम लगभग 7-30 बजे एक एमआई कम्पनी का मोबाइल फोन बंद हालत में पिसनहारी की मढ़िया में सब्जी खरीदने के दौरान मिला था जिसे उसने उक्त मोबाईल यह सोचकर अपने पास रख लिया था कि इसे चालू करके मालिक से बात करके लौटा दूंगा, दिनांक 18-2-21 की सुवह लगभग 10-15 बजे वह मेडिकल काॅलेज में अपनी डियूटी पर था उस मोबाइल को वापस करने के उद्देश्य से अपनी जियो कम्पनी की सिम लगाते ही उसके पास एक अज्ञात नम्बर से फोन आया और अज्ञात व्यक्ति ने कहा कि वह गढ़ा थाना से एस.आई. मरावी बोल रहा है अभी वह साईबर सेल में है तुम्हारे पास जो मोबाइल है उसकी गुमशुदगी की रिपेार्ट दर्ज है तुमको और तुम्हारे परिवार को जेल जाना पडेगा, तुमने मोबाइल चोरी किया है तो उसने कहा कि उसने मोबाइल चोरी नहीं किया वह तो खुद मोबाइल वापस करना चाहता है , फोन करने वाले ने कहा कि मोबाइल की कीमत 13 हजार रूपये है वो रूपये दे दो मोबाइल नहीं चाहिये रूपये नही दिये तो जेल जाना पड़ेगा, यह सुनकर वह बहुत डर गया और यह बात अपने पहचान के नीरज मिश्रा भैया को बतायी थी नीरज भैया ने भी उस फर्जी पुलिस वाले से बात की थी तो वह फर्जी पुलिस वाले ने उनसे भी कहा था कि पैसे दे दो तो ही तुम्हारा भाई बचेगा नही, तुम्हारे भाई को जेल जाना पड़ेगा, दिनांक 18-2-21 को उसने फोन करने वाले के दिये गये अकाउण्ट नम्बर पर 9 हजार रूपये डाल दिये थे रूपये डालने के बाद उसे पता चला कि उसकी फर्जी व्यक्ति ने पुलिस वाला बनकर नीरज भैया से भी बात करके इसी खाता नम्बर पर एक बार 10 हजार रूपये तथा दूसरी बार में 2990 रूपये कुल 12 हजार 990 रूपये अपने अकाउण्ट में डलवा लिये हैं फिर दिनंाक 19-2-21 को उसने समाज सेवी आशीष ठाकुर से सम्पर्क कर उक्त नम्बर पर बात करायी तो वह फर्जी पुलिस वाला गोल मोल बातें करने लगा, बाद में उसने फोन बंद कर दिया, उसने ट्रू काॅलर पर चैक किया तो उक्त नम्बर शिवानी स्मार्ट सर्विस के नाम से शो कर रहा था। शिकायत पर अज्ञात के विरूद्ध आज दिनांक 27-2-21 की रात धारा 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।
*घटित हुई घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा आरोपी की तलाश पतासाजी कर आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किया गया।अति. पुलिस अधीक्षक (दक्षिण/अपराध)  गोपाल खांडेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक गढ़ा  तुषार सिंह के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी गढा श्री राकेश तिवारी के नेतृत्व में टीम गठित की गई ।गठित टीम के द्वारा पतासाजी करते हुये ग्राम बांकी मे दबिश देकर सोमनाथ साहू उम्र 19 वर्ष ग्राम बांकी, थाना शहपुरा जिला डिण्डोरी, को अभिरक्षा में लेते हुये पूछताछ कर 1 मोबाईल , 2 सिम एवं 1 एटीएम कार्ड जप्त करते हुये प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार किया जाकर दिनाॅक 28-2-21 को मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।
*उल्लेखनीय भूमिका* – आरोपी को पतासाजी कर गिरफ्तार करने मे थाना प्रभारी गढा  राकेश तिवारी, उप निरीक्षक प्रशांत शुक्ला, ब्रजेन्द्र तिवारी आरक्षक अश्वनी, सचिन, एवं सायबर सेल के अमित पटेल की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: