शादी में चोरी हुए साढ़े छ लाख कीमती गहनें जप्त ,सांसी गिरोह के बादल पाल की तलाश 

जबलपुर:भेड़ाघाट स्थित ओबेराय होटल से शादी समरोह के दौरान चोरी गये 6 लाख 45 हजार रूपये कीमती जेवर जिला राजगढ़ से जप्त करते हुए पुलिस के कढिया सांसी गिरोह के बादल पाल की तलाश सुरु कर दी है।

ये है मामला,

मामला भेड़ाघाट थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना भेड़ाघाट में आज दिनंाक 20-2-22 की शाम लगभग 5 बजे घनश्याम अग्रवाल उम्र 61 वर्ष निवासी शुभल़़क्ष्मी रेसीडेंसी नेपियर टाउन ओमती ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि दिनंाक 19-2-22 की उसके बेटे मनू अग्रवाल की शादी ग्राम तेवर पेट्रोल पम्प के पास स्थित ओबेराय होटल में हो रही थी जहां शाम लगभग 5-30 बजे उसने तथा ओमवती एवं अन्य रिश्तेदारों ने मिलकर दुल्हन को चढ़ावा उपहार के रूप में सोने का करधन, 2 हार, 1 बेंदी एवं चांदी की पायल सहित सम्पूर्ण गहने मंडप के नीचे दिये थे जो दुल्हन की मां छविकिरण सोनी ने एक मजिंटा कलर के बैग में रख ली थीं, बैग के ऊपर निधि ज्वेलर्स सराफा बजार जबलपुर लिखा था। शाम लगभग 6 बजे अचानक मंडप के पास मौजूद महिलाओं को एवं दूल्हे की मॉ को खुजली होने का आभास हुआ वहां पर अफरा तफरी मच गयी रात लगभग 8 बजे दुल्हन के पिता अजय कुमार सोनी ने बताया कि गहनों वाला बैग नहीं मिल रहा है, हम सभी लोगों ने पूरी होटल मेें तलाश करवाये परन्तु बैग एवं गहने नहीं मिले । कोई अज्ञात चोर शादी के कार्यक्रम के दौरान पहुॅचकर सोने चांदी के गहनों का बैग चोरी कर ले गया है। रिपोर्ट पर धारा 380 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विेवेचना मे लिया गया।वहीँ पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर श्री गोपाल खाण्डेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह बघेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक बरगी सुश्री प्रियंका शुक्ला (भा.पु.से.) के मार्गनिर्देशन में थाना प्रभारी भेडाघाट श्री शफीक खान के नेतृत्व में थाना स्टाफ एवं क्राईम ब्रांच की टीमें गठित कर लगायी गयी।दिये गये निर्देशों के तहत होटल मे लगे सीसीटीव्ही फुटेज खंगाले गये जिसमें 1 लड़का बैग चोरी कर होटल से बाहर जाते हुये दिखा, दौरान पतासाजी के जिला राजगढ के कढिया सांसी लोगों के द्वारा इस प्रकार से शादी पार्टी में चोरी करने की घटनाओं को अंजाम देना पता चला।

ऐसे जप्त हुए गहनें

वहीँ पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के आदेशानुसार थाना प्रभारी भेडाघाट  शफीक खान के नेतृत्व में क्राईम ब्रांच एवं थाना स्टाफ की एक टीम गठित कर राजगढ रवाना की गयी। गठित टीम जिला राजगढ के थाना बोडा पहुंचकर थाना प्रभारी उप निरीक्षक श्री राठौर से उनके एवं एवं उनके स्टाफ को मिले सीसीटीव्ही फुटेज दिखाये तो थाने के स्टाफ के द्वारा अज्ञात चोर की पहचान बादल पिता कृष्णा पाल निवासी ग्राम गुलखेड़ी के रूप में की, जिसकी गिरफ्तारी हेतु मुखबिरों को लगाया गया। दौरान तलाश पतासाजी के विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि चुराये हुये गहनों को थैले मे रखकर बादल पाल बेचने के लिये पचौर जा रहा है, सूचना पर तत्काल टीम के द्वारा दबिश दी गयी, रात्रि को फायदा उठाकर बादल पाल गेहनों से भरा बैग छोडकर फरार हो गया, तलाशी लेने पर बैग के अंदर चुराई हुई सोने की करधन, 2 हार, 1 बेदी, चांदी की पायल आदि कीमती 6 लाख 45 हजार रूपये की रखी हुई मिली जिसे जप्त कर थाना भेडाघाट लाया गया, फरार आरोपी बादल पाल की सरगर्मी से तलाश जारी है।

उल्लेखनीय भूमिका* – आरोपी की पतासाजी एवं चुराये हुये जेवर राजगढ से जप्त करने में थाना प्रभारी भेडाघाट  शफीक खान, क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक धनंजय सिंह, प्रधान आरक्षक ब्रृजेन्द्र सिंह कसाना, आरक्षक मोहित, वीरेन्द्र सिंह, खेमचंद, मुकेश, सायबर सेल के आरक्षक आदित्य, थाना भेडाघाट के आरक्षक रूपेश लोधी तथा जिला राजगढ थाना बोडा के थाना प्रभारी उप निरीक्षक श्री राठौर एवं उनके स्टाफ की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: