घर में आग लगने से प्रोटोकॉल इंस्पेक्टर की पत्नी,बहन और भांजी की मौत, माँ और बेटे को लोगों ने बचाया 

जबलपुर:देर रात पिंक सिटी के एक घर में आग लगने से तीन लोग जिंदा जलकर खत्म हो गए सूचना पर पहुँची पुलिस और फायर बिग्रेड ने किसी तरह आग पर काबू पाया ,इस दर्दनाक हादसे में  प्रोटोकॉल इंस्पेक्टर की पत्नी,बहन और भांजी की आग से जलने के कारण मौत हो गई,जबकि स्थानीय लोगों ने धधकती आग के बीच किसी तरह माँ और बेटे को बचाया

ये है पूरा मामला

मामला गोराबाजार थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक पिंक सिटी के WCR में प्रोटोकॉल इंस्पेक्टर के पद पर पदस्थ आदित्य सोनी अपनी 70 वर्षीय मां  अरुणा बाला सोनी एवं पत्नी  नेहा सोनी के साथ निवास करते हैं,इनकी दो श्रीमती रितु सोनी भोपाल में एवं वर्षा सोनी ऑस्ट्रेलिया में रहती हैं।श्रीमती रितु सोनी 10 दिन पहले ही भोपाल से 7 वर्षीय बेटी परी उर्फ धनविस्टा के साथ भाई आदित्य सोनी घर आई थी।मां भूतल में तथा आदित्य सोनी, पत्नी नेहा सोनी, बहन रितु सोनी एवं भांजी परी के साथ प्रथम तल पर सो रहे थे।रात लगभग 2:30 बजे घर में आग लगने से पत्नी श्रीमती नेहा सोनी उम्र 32 वर्ष, बहन श्रीमती रितु सोनी उम्र 39 वर्ष एवं भांजी परी उम्र 7 वर्ष की आग से जलने के कारण मृत्यु हो गई है। मां श्रीमती अरुणा बाला सोनी एवं बेटे आदित्य सोनी को स्थानीय जनों के द्वारा सुरक्षित बचा लिया गया ।

घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुँचे एसपी और विधायक 

वहीँ घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा , विधायक  अशोक रोहाणी , नगर निगम कमिश्नर  संदीप जी आर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दक्षिण  गोपाल खांडेल, नगर पुलिस अधीक्षक केंट  भावना मरावी, नगर पुलिस अधीक्षक गोरखपुर  आलोक शर्मा, थाना प्रभारी गोरा बाजार, सिविल लाइन, थाना कैंट एवं ग्वारीघाट का बल, FSL डॉक्टर श्रीमती सुनीता तिवारी, नायब तहसीलदार श्री नीरज तखरिया, नगर निगम फायर ऑफिसर श्री कुशाग्र ठाकुर तत्काल मौके पर पहुंचे।पुलिस ने प्रारंभिक कार्यवाही करते हुए शव को पी एम है तो भिजवाते हुए मर्ग कायम कर घटित हुई घटना की गंभीरता से जांच सुरु कर दी है।

 

शेयर करें: