जबलपुर के सिहोरा में किसानों का विरोध प्रदर्शन,नेशनल हाइवे पर पैदल मार्च,चक्का जाम,देखें वीडियो 

 

जबलपुर:किसान संगठनों के आवाह्न पर आज जबलपुर के सिहोरा में किसानों ने सरकार के कृषि बिल कानूनों का विरोध करते हुए एनएच 30 पर पैदल मार्च निकाला इतना ही नहीं कुछ युवा किसान थोड़ी देर के लिए एनएच पर बैठ भी गए थे, हलाकी सिहोरा के पहरेवा से सुरु हुए पैदल मार्च के चलते एनएच 30 की एक साईड की सड़क पर तकरीबन आधे घँटे तक जाम जैसी स्तिथि निर्मित हो गई थी,तो वहीँ 15 मिनट के लिए पूरी एनएच पर ही जाम लग गया,किसानों के आंदोलन के चलते पुलिस प्रशासन की चप्पे -चप्पे पर तैनाती कर दी गई थी ,हलाकि शांतिपूर्ण ढंग से हुए इस विरोध प्रदर्शन में किसान ट्रेक्टर रैली जैसी भीड़ नहीं जुटा पाए,

क्या जाम से होगा किसानों का काम?

 

सिहोरा थाना के सामने सड़क पर बैठ गए किसान 

वहीँ एनएच पर पैदल मार्च करते हुए किसान सिहोरा बस स्टैंड पहुँचे जहाँ पर उन्होंने सड़क पर बैठकर विरोध प्रदर्शन किया ,किसानों के इस आंदोलन में कांग्रेसी नेताओं ने भी अपना समर्थन देते हुए शामिल हुए,12 बजे सुरु हुआ यह किसान  आंदोलन 3 बजे सिहोरा एसडीएम चंद्र प्रताप गोहिल को ज्ञापन देने के बाद समाप्त हुआ,

गौरतलब है की आज के दिन के लिए  किसान संगठनों द्वारा देशव्यापी चक्काजाम का आव्हान किया गया था, जिसके चलते सिहोरा में भी सभी किसान संगठनो द्वारा सरकार के नए कृषि बिलों को किसान विरोधी बताकर पैदल मार्च  धरना प्रदर्शन किया गया,इस दौरान सरकार विरोधी नारे लगाते हुए किसानों ने सरकार से जल्द से जल्द इन कानूनों को वापिस लेने की मांग की ,आज शनिवार के दिन हुए इस आंदोलन के दौरान किसानों को कांग्रेस नेताओं का भरपूर समर्थन रहा,किसान नेताओं में रमेश पटेल,अखिलेसानन्द ,अवधेश यादव ,कांग्रेसी नेताओं में राजेश चौबे ,अमोल चौरसिया ,ममता गोंटिया, गीत Dikshit सहित सैकड़ों किसानों ने सरकार के विरोध में प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन सौपा

 

शेयर करें: