रिश्तेदारी में फरारी काट रहे थे धोखाधड़ी के आरोपी पुलिस ने किया गिरफ्तार 

 

जबलपुर :धोखाधड़ी के मामले में फरार चल रहे दो आरोपियों को पुलिस ने उनकी रिश्तेदारी से गिरफ्तार कर लिया है,टी आई भेड़ाघाट  शफीक खान ने बताया कि सुनील सिंह चंदेल उम्र 53 वर्ष निवासी धनवतंरी नगर थाना संजीवनीनगर ने लिखित शिकायत की थी कि उसने गीता सिंह रावत एंव दिलीप चैधरी ने मिलकर श्रीमती लीला बाई पटैल, श्रीमती शीला बाई पटैल, भूरा पटैल, हुकुम पटैल , पवन पटैल के स्वामित्य की भूमि चैकीताल खसरा नम्बर 196/1 रकवा 0.340 हेक्टेयर अर्थात 26893 वर्ग फुट भूमि को 83 लाख 36 हजार 830 रूपये क्रय करने हेतु अनुबंध पत्र दि. 6-10-2016 को निष्पादित कराया जिसके एवज में श्रीमती लीला बाई, शीला बाई एवं अन्य लोगों ने रूपये प्राप्त किया, तथा शेष राशि 76 लाख 76 हजार 830 रूपये जिसमे प्रत्येक क्रेता की देनदारी 27 लाख 78 हजार 943 रूपये विक्रेतागणों को देने की थी, उसने अपने पक्ष के सम्पूर्ण रूपये विक्रेतागणों की जरूरत के अनुसार नगद, चैक एवं आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान किया था, इसके अलावा भी विक्रेता पवन पटैल के मकान के लेंटर की छत के लिये 5 लाख रूपये का सामान मेहुल टेडर्स शारदा चैक जबलपुर के माध्यम से दिलाया जिसका भुगतान भी उसके द्वारा किया गया इस प्रकार भूमि स्वामियों ने उससे 4 लाख 21 हजार 57 रूपये ज्यादा भुगतान प्राप्त किया, दि. 31-8-2017 तक विक्रेतागणों ने षड़यंत्र रचते हुये कपट पूर्वक उक्त सम्पत्ति का इकरारनामा गीता सिंह रावत से निष्पादित कर उसके साथ छल धोखाधड़ी एवं ठगी की गयी है।क्रेता श्रीमति गीता सिंह रावत एवं विक्रेता भूरा पटैल, पवन पटैल इस तरह की ठगी एवं भू-माफिया का कार्य करते हुये अनेक लोगों के साथ इसी तरह के अपराधिक कृत्य कर रसूख एवं रूपयों का फायदा उठाकर विधि विरूद्ध तरीके से अपराधिक कृत्यों को अंजाम देते रहते हैं राम प्रसाद पटैल, किशन लाल पटैल, भूरा पटैल, पवन पटैल आपस में सगे रिेश्तेदार हैं और भू माफिया एवं लोगों केा ठगने का कार्य करते हैं तथा गीता सिंह रावत जिसका पूरा परिवार आदतन अपराधी है जिनके अलग अलग थानो में पुलिस रिकार्ड है । ंश्रीमती गीता सिंह रावत ने विक्रेता भूरा पटैल, पवन पटैल के पारिवारिक सदस्य किशन लाल, रामप्रसाद पटैल से मिलकर षड़यंत्र रचते हुये अशोक कुमार मिश्रा के साथ भी इस प्रकार की धोखाधडी की थी जिस पर थाना भेड़ाघाट मे दिनंाक 7-2-2020 को श्रीमती गीता सिंह रावत, रामप्रसाद पटैल, रामदास पटैल के विरूद्ध अपराध क्रमांक 56/2020 धारा 420, 406, 120 बी,34 भादवि दर्ज कर श्रीमती गीता सिह रावत , रामप्रसाद पटैल को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया एवं जहां से दोनों को जेल में निरूद्ध कराया गया था। शिकायत पर श्रीमति गीता सिंह रावत, भूरा पटेैल, पवन पटैल, लीला बाई पटैल, शीला बाई पटैल, हुकुम पटैल के विरूद्ध दिनाॅक 19-1-21 को अपराध क्रमंाक 24/21 धारा 420, 406, 120 बी, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर श्रीमति गीता सिंह रावत की प्रकरण मे गिरफ्तारी की गयी थी, शेष आरोपी घटना दिनाॅक से ही फरार चल रहे थे।

रिश्तेदारी में काट रहे थे फरारी 

वहीँ  पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा फरार आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण  शिवेश सिंह बघेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक बरगी  रवि चैहान द्वारा थाना प्रभारी भेडाघाट पुलिस की टीम गठित कर लगायी गयी।गठित टीम द्वारा दिनाॅक 9-3-21 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर रिश्तेदारी मे दबिश देते हुये भूरा पटेल पिता स्व. सीताराम पटेल 50 वर्ष निवासी चैकीताल थाना भेड़ाघाट एवं श्रीमति शीला बाई पति हेमसिंह पटेल 42 वर्ष निवासी घाना बरगी को प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार किया गया है, फरार पवन पटेल, लाला बाई पटेल एवं हुकुम पटेल की सरगर्मी से तलाश जारी है।

शेयर करें: