भागवत कथा स्मरण मात्र से पापों से मिलती है मुक्ति, संतान की पहली गुरु होती है माँ

कटनी/स्लीमनाबाद(सुग्रीव यादव); हरिदास ब्रजधाम कोहका मैं बसन्तोत्सव पर्व का आगाज हो गया।बसन्तोत्सव पर्व पर सप्ताह ज्ञान यज्ञ चल रहा है।जिसमे श्रीमद्भागवत कथा चल रही है।कथा का वाचन पंडित रमाकांत पौराणिक के मुखारविंद से किया जा रहा है।ज्ञान यज्ञ के दूसरे दिवस शनिवार को वराह अवतार व ध्रुव चरित्र की कथा सुनाई।कथा वाचक ने कहा कि माता ही संतान की प्रथम गुरु होती है, उसके सानिध्य में ही संतान का व्यक्तित्व निखरता है एवं भविष्य उज्जवल होता है। वही संतान को उचित-अनुचित रास्ते का भेद बताती है। जिस संतान को मां की सही शिक्षा एवं मार्गदर्शन मिलता है वो आकाश में ध्रुव तारे की तरह जगमगाते हैं, जैसे बालक ध्रुव को उनकी सौतेली मां ने जब उनके पिता की गोद से उतार दिया था तो उनकी मां सुनीति ने उन्हें ज्ञान दिया कि बैठना है तो परम पिता परमात्मा नारायण की गोद में बैठो, जिसे मानकर बालक ध्रुव ने नारायण की तपस्या की एवं भगवान ने उन्हें दर्शन देकर आसमान में हमेशा जगमग रहने का आशीर्वाद दिया। उन्होंने आगे कथा सुनाते हुए कहा कि आज की माताओं को अपनी संतान को इतना लाड़ करना चाहिए कि अपने मुंह का निवाला देना चाहिए पर शेरनी की नजर से देखना चाहिए कि वो कोई अनैतिक कार्य न करें। इससे पूर्व संत ने भागवत कथा के महात्म को सुनाते हुए कहा कि इसके श्रवण से मनुष्य को सांसारिक जीवन के प्रति मोह समाप्त होता है, भौतिक संपदा के प्रति मोह ही मृत्यु का भय पैदा करता है, परंतु जो व्यक्ति भागवत कथा का श्रवण करता है उसे मृत्यु का भय नहीं रहता उन्होंने आगे कथा वाचन करते हुए कहा कि अंतिम समय में जब शरीर साथ छोडऩे लगे तो व्यक्ति को सत्संग रूपी गंगा में स्नान करना चाहिए। सत्संग में सद्गुरु की प्राप्ति होती है जो परमात्मा से मिलन का मार्ग बताता है जैसे मुनि के श्रॉप से ग्रसित राजा परीक्षित को शुकदेव ऋषि का सानिध्य प्राप्त हुआ तो उन्होंने उनके जीवन के सात बचे हुए दिनों में श्रीमद्भागवत का श्रवण कराया जिससे राजा परीक्षित को तक्षक सर्प के डसने से मृत्यु का भय नहीं रहा।

ब्रजधाम मैं आज होगा नन्दोत्सव-
हरिदास ब्रजधाम मैं सोमवार को सप्ताह ज्ञान यज्ञ मैं भगवान श्रीकृष्ण की जन्म की कथा होगी।जिसे नन्दोत्सव के रूप मे धूमधाम से मनाया जाएगा।नन्दोत्सव मैं दूरदराज से बड़ी संख्या मे भक्त शामिल होंगे।
इस दौरन जिला पंचायत सदस्य पंडित प्रदीप त्रिपाठी, गणेश तिवारी, सुनील तिवारी,अनुराग मिश्रा, गुलाब यादव,राजेन्द्र यादव,पवन यादव,कैलाश गुप्ता ,रामनारायण यादव सहित बड़ी संख्या मे श्रद्धालुओं की उपस्थिति रही।

शेयर करें: