इनकी भी सुनो साहब:बगैर वेतन के त्यौहार कैसे मनायेंगे कम्प्यूटर आपरेटर,चार माह से नहीं मिला वेतन

जबलपुर:अधिकारियों के कंधे से कंधा मिलाकर सरकारी काम को ईमानदारी से करने वाले कम्प्यूटर ऑपरेटर चार माह से वेतन न मिलने से पंजी-पंजी को मोहताज है ,और आने वाले त्यौहारों को लेकर चिंतित है की बगैर वेतन के त्यौहार कैसे मनाएंगे मामला जबलपुर कलेक्टर कार्यालय एवं तहसील राजस्व न्यायालय में पदस्थ कम्प्यूटर ऑपरेटरों का है,बताया जा रहा है की जबलपुर जिले के कलेक्टर कार्यालय सहित तहसील राजस्व न्यायालय में पदस्थ कम्प्यूटर ऑपरेटरों को चार माह से वेतन नहीं दिया गया
इन महीनों का नहीँ मिला वेतन 
प्राप्त जानकारी के मुताबिक कलेक्टर कार्यालय ई – गवर्नर्स जबलपुर के ग्रामीण इलाकों में तहसील कार्यालय में पदस्थ 44 लोगों में  आउटसोर्स से अधिकृत समस्त कम्प्यूटर ऑपरेटरों को अप्रैल ,मई, जून, जुलाई माह तक का वेतन नहीं दिया गया।जिसके चलते कम्प्यूर ऑपरेटरों को बड़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है, जबकि 7 जून 2021 को कम्प्यूटर ऑपरेटरों द्वारा कलेक्टर को लिखित आवेदन देते हुए वेतन भुगतान की मांग की गई थी ,लेकिन अभी तक वेतन का भुगतान नहीं हुआ ,जिसके चलते सभी में निराशा के बादल छाए हुए है,
क्यों नहीं दिया जा रहा वेतन
बताया तो यह भी जा रहा है की जिला मुख्यालय से कोई भी लिखित आदेश तहसील कार्यालय में न भेजे जाने के कारण कम्प्यूटर ऑपरेटरों को वेतन नहीं दिया गया, तो वहीँ चार माह से वेतन न मिलने के कारण जबलपुर सहित ग्रामीण क्षेत्र पाटन, कुंडम, पनागर ,शहपुरा, मझौली ,सिहोरा के कम्प्यूटर आपरेटर आर्थिक समस्या से गुजर रहे है, आरोप तो ये भी है की  काप्यूटर ऑपरेटर्स को  कम वेतन दिया जाता है और यह वेतन प्रति दो माहों के अंतराल से भुगतान किया जाता है,
इनका कहना है, ये हमारा विषय नहीं है तहसील कार्यालय वाले बजट बनाकर करें उनकी पेमेंट ,ज्यादा परेशानी हो तो वो लोग कलेक्टर साहब से बात कर सकते है,
ई गवर्नर्स कार्यालय जबलपुर, चित्रांसु तिर्पाठी
शेयर करें: