नहर के पानी में उतराता मिला युवक का शव,नोकरी जाने की बजह से था परेसान

 

जबलपुर:एक युवक ने नोकरी न होने की बजह से आत्महत्या कर ली और सुसाईड नोट में लिखा की पापाजी सब झूठ था, नौकरी 2017 में ही चली गयी थी, मै अब अैार बर्दाश नहीं कर सकता,लिखकर युवक ने  आत्महत्या कर ली

ये है पूरा मामला,

मामला पनागर थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना पनागर अंतर्गत नहर के पानी में एक व्यक्ति का शव उतराता हुआ मिला, नहर किनारे खड़ी मोटर सायकिल में टंगे बैग में सुसाईड नोट लिखा मिला
थाना प्रभारी पनागर  आर.के. सोनी ने बताया कि आज दिनंाक 18-3-21 की शाम राजेश यादव उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम मझगवां ने डायल 100 पर सूचना दी कि मझगवा कालोनी नहर में एक अज्ञात पुरूष उम्र लगभग 35 वर्ष है, का शव नहर के पानी में उतरा रह़ी है तथा वहीं पर एक मोटर सायकल खड़ी है, सूचना पर तत्काल हमराह स्टाफ केा लेकर पहुंचा, नहर में एक व्यक्ति का शव उतराता हुआ दिखा तथा नहर किनारे याम्हा एफजेड क्रंमाक एमपी 20 एमवाय 0273 लाॅक हालत में खड़ी मिली मोटर सायकिल में हैलमेट एवं एक बैग टंगा मिला, बैग को चैक किया गया तो बैग मे एक कागज में लिखा हुआ मिला कि ‘‘ पापाजी सब झूठ था, नौकरी 2017 में ही चली गयी थी, मै अब अैार बर्दाश नहीं कर सकता, और यह कदम उठा रहा हूूॅ, हो सके तो मुझे माफ कर देना, मै बहुत अच्छा बनने के चक्कर में बहुत बुरा बन गया, किसी से नौकरी की बात नहीं हुई, पैसे सब बरबाद किये मैने सिर्फ दोस्ती के चक्कर में ’’। रजिस्ट्रेशन नम्बर पर सर्च करने पर मोटर सायकिल कृष्ण दत्त दुबे पिता रमेश चंद्र दुबे निवासी पुराना कंचनपुर के नाम पर रजिस्टर्ड होना पाया जाने पर परिजनों केा सूचित किया गया है। शव को निकलवाने के प्रयास जारी है।

शेयर करें: