जिले के ग्रामीण पटवारी हल्का, ग्राम और आबादी क्षेत्र का होगा भू-सर्वेक्षण

जबलपुर, जिले के सभी दस तहसीलों के सभी ग्रामीण पटवारी हल्का के अंतर्गत आने वाले समस्त ग्रामीण ग्राम और ग्राम के आबादी क्षेत्र भू-सर्वेक्षण के लिये अधिसूचित किये गये हैं। कलेक्टर एवं जिला सर्वेक्षण अधिकारी कर्मवीर शर्मा ने ग्रामीण क्षेत्र के लोगों से आग्रह किया है कि वे भू-सर्वेक्षण के दौरान मौके पर मौजूद रहें और इस कार्य में लगे कर्मचारियों का सहयोग करें। कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा है कि ग्रामीण आबादी क्षेत्र के भू-सर्वेक्षण के दौरान संबंधित व्यक्ति भूमि में उसके स्वत्व, सीमाओं, अंशों दायित्वों और अधिकारों की जानकारी सर्वेक्षण कर्ता कर्मचारी को मुहैया करायें। श्री शर्मा ने बताया कि कृषकों के हित में भू-सर्वेक्षण का कार्य राज्य शासन द्वारा कराया जा रहा है। भू-सर्वेक्षण के दौरान नवीन अधिकार अभिलेख तैयार किया जायेगा। जिसमें समस्त खातेदारों के नाम, उनके अंश, दायित्व तथा सुखाचार अधिकार अभिलिखित किये जायेंगे। साथ ही ग्रामों के लिये निस्तार पत्रक तथा वाजिब-उल-अर्ज भी तैयार किया जायेगा।
आयुक्त भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त ग्वालियर द्वारा जबलपुर जिले की ग्रामीण आबादी क्षेत्र के भू-सर्वेक्षण की अधिसूचना राजपत्र में भी प्रकाशित की जा चुकी है।
जिले की जबलपुर, कुंडम, पाटन, सिहोरा, मझौली, शहपुरा, पनागर, गोरखपुर, अधारताल और रांझी तहसील के समस्त ग्रामीण पटवारी हल्का के अंतर्गत आने वाले ग्राम और आबादी क्षेत्र भू-सर्वेक्षण के अधीन लिये गये है।

 

शेयर करें: