जनता को धोखा देने वाली चिटफंड कंपनियों की चल अचल संपत्ति करें जप्त,गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा 

जबलपुर :पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस अधिकारियों की बैठक लेते हुए ग्रह मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने  कानून व्यवस्था की समीक्षा की इस दौरान उन्होंने जबलपुर जिले में अपराधों पर नियंत्रण पाने तथा माफिया एवं मिलावटखोरों के विरुद्ध की जा रही कार्यवाही के लिये जबलपुर पुलिस की सराहना, एवं कहा कि आम जनता के साथ धोखाधड़ी कर उनकी गाढ़ी कमाई लूटने वाली चिट फंड कम्पनियों की चल-अचल सम्पत्ति को जप्त कर विधिवत कार्यवाही करते हुये नीलाम कर निवेशकों को जमा राशि वापस कराई जाये,

कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक ,

 

जबलपुर प्रवास के दौरान डाॅ. नरोत्तम मिश्र मंत्री मध्य प्रदेश शासन गृह, जेल, संसदीय कार्य विधि एवं विधायी कार्य विभाग ने आज दिनाॅक 27-1-21 को पुलिस कन्ट्रोलरूम जबलपुर मे जिले की कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक मान्नीय विधायक कैंट  अशोक रोहाणी, एवं मान्नीय विधायक  सुशील तिवारी इंदु एवं नगर भा.ज.पा. नगर अध्यक्ष  जी.एस. ठाकुर, ग्रामीण अध्यक्ष  रानू तिवारी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक  अशोक अवस्थी (भा.पु.से.), पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन,  भगवत सिंह चैहान (भा.पु.से.) एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) की उपस्थिति में ली । बैठक में जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से जबलपुर जिले में अपराधियों, भू-माफिया, खनन माफिया, शराब माफिया, ड्रग माफिया, मिलावटखोरों एवं चिट फंड कम्पनियों के विरुद्ध अभी तक की गई कार्यवाही की विस्तार से जानकारी दी तथा महिलाओं को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने प्रदेश स्तरीय महिला जन जागरूकता अभियान ‘‘सम्मान’’ के तहत जबलपुर पुलिस द्वारा जिले में आयोजित किये जा रहे महिला जन जागरूकता अभियान ‘‘सम्मान’’ के कार्यक्रमों की जानकारी बैठक में दी । गृहमंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्र ने जबलपुर जिले में अपराधों पर नियंत्रण पाने तथा माफिया एवं मिलावटखोरों के विरुद्ध की जा रही कार्यवाही के लिये जबलपुर पुलिस की सराहना करते हुये कहा कि माफियाओं के विरूद्ध सख्ती लगातार बढानी होगी, आपने चिट फंड कम्पनियों केा लेकर मिलने वाले शिकायतों पर भी और कठोर रवईया अपनाने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दी है।आपने बैठक में भू-माफिया, खनन माफिया, जुआँ-सट्टा माफिया, शराब माफिया और ड्रग माफिया के विरुद्ध की गई कार्यवाही का विस्तार से ब्यौरा प्राप्त किया तथा बड़े और रसूखदार माफिया पर ज्यादा सख्ती बरतने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिये। साथ ही शराब के अवैध कोरोबार को कड़ाई से रोकने तथा इसमें लिप्त अपराधियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करते हुये अवैध शराब के प्रकरणों में आ रही कमियोें एवं खमियों को दूर कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष शासन का पक्ष मजबूती से रखते हुये अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाये जाने हेतु निर्देशित किया एवं कहा कि आम जनता के साथ धोखाधड़ी कर उनकी गाढ़ी कमाई लूटने वाली चिट फंड कम्पनियों पर न केवल आपराधिक प्रकरण कायम किये जायें बल्कि उनकी चल-अचल सम्पत्ति को जप्त कर विधिवत कार्यवाही करते हुये नीलाम कर निवेशकों को उनकी जमा राशि वापस कराई जाये ।

शेयर करें: