पत्नी के प्रेमी की हत्या का आरोपी पति गिरफ्तार,भोपाल से बुलाकर जबलपुर में कर दी थी हत्या 

 

जबलपुर :पति पत्नी और वो वाली कहानी में अचानक जब मोड़ आ गया जब पति ने पत्नी के प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया,वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपी पति ने प्रेमी के साथ भोपाल में रह रही पत्नी को जबलपुर बुलाकर प्रेमी की धारदार हथियार से हत्या कर दी ,फिलहाल पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है,

ये है पूरा मामला,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना सिविल लाईन में दिनांक 24-4-21 को पुरानी प्रकाश कालोनी में हत्या होने की सूचना पर पहुंची पुलिस को श्रीमती नीतू ठाकुर उम्र 45 वर्ष निवासी माण्डवा टेंडर टू सामुदायिक भवन के पास गोरखपुर ने बताया कि उसकी शादी रामप्रसाद जाटव से सन 2001 में हुयी थी उसके तीन बच्चे हैं राजू ठाकुर (गौड) उम्र 40 वर्ष जो उसके मौहल्ले में रहता था उसका पति उसके सम्बंध राजू ठाकुर से होने की शंका करता था इसी बात को लेकर उसके साथ मारपीट करने लगा था तो वह अपनी इच्छा से लगभग 9 माह पहले राजू गौंड ठाकुर केा अपना पति बनाकर भोपाल जाकर दोनों पति पत्नी के रूप मे रहने लगे थे उसका पति रामप्रसाद जाटव, राजू ठाकुर के मोबाइल पर फोन कर कह रहा था कि घर पर बच्ची की तबियत खराब है तुम नीतू को लेकर जबलपुर आ जाओ, बच्ची को देखकर चले जाना, राजू ठाकुर ने यह बात उसे बतायी तो दिनांक 24-4-21 केा भोपाल से 5-40 बजे चलने वाली ट्रेन में बैठकर जबलपुर आये प्लेटफार्म नमबर 5 पर पति रामप्रसाद बोला चलो में तुम्हे लेने आया हूॅ, एैसा कहते हुये उसका साथ सामान लेकर पैदल चलने लगा, आगे चलकर अंकित होटल के पास पहुंचकर बोला पुरानी प्रकाश रेल्वे कालोनी जहा पहले रहते थे वहां पर मेरी मोटर सायकल खड़ी है तथा उससे कहा कि तुम रोड पर सामान रख दो और यहीं पर खड़ी हो जाओ , हम मोटर सायकिल लेकर आते हैं एैसा कहते हुये रामप्रसाद जाटव , राजू ठाकुर गौड़ को अपने साथ लेकर छेडी वाले रास्ते से जहां हम पहले रहते थे उधर ले गया और लगभग 10 मिनिट बाद मोटर सायकल से अकेला आया, उसने पूछा कि राजू ठाकुर कहां है तो बोला कि मैने राजू का काम तमाम कर दिया है, एैसा कहते हुये उसे लात मारकर धक्का दिया जिससे वह गिर गयी तो रामप्रसाद जाटव मोटर सायकल लेकर भाग गया, फिर वह उठकर छेड़ी वाले रास्ते तरफ गयी देखी कि राजू ठाकुर जमीन पर पड़ा था, राजू ठाकुर केा हिलाया जो कुछ बोल नहीं रहा था मुंह मे खून लगा था । उसके पति रामप्रसाद जाटव ने राजू ठाकुर के गर्दन एवं पेट में धारदार हथियार चाकू जैसे औजार से प्राणघातक चोट पहुचाकर हत्या कर दिया है।वहीँ , सूचना पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों एवं एफ.एस.एल. टीम की उपस्थति में पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।

भाई के घर मे मिला आरोपी 

वहीँ पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर नगर पुलिस अधीक्षक ओमती  आर.डी. भारद्वाज के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी सिविल लाईन धीरज कुमार राज के नेतृत्व में टीम गठित कर लगायी गयी।गठित टीम के द्वारा माण्डवा बस्ती में दबिश देते हुये राम प्रसाद जाटव के रिश्तेदारों के सम्बंध मे पतासाजी की गयी एवं रात्रि में हीं रिश्तेदारों के घर पर दबिश देते हुये माढोतांल के कठोंदा मे रह रहे भाइ के घर से रामप्रसाद जाटव उम्र 40 वर्ष को अभिरक्षा में लेते हुये थाना सिविल लाईन लाया गया एवं सघन पूछताछ कर घटना में प्रयुक्त चाकू जप्त करते हुये दिनाॅक 26-4-’21 को मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

उल्लेखनीय भूमिका* – पत्नि के प्रेमी की हत्या करने वाले आरोपी को चंद घंटो में पकडने में थाना प्रभारी सिविल लाईन  धीरज कुमार राज, उप निरीक्षक बिशन लाल परतेती, प्रघान आरक्षक शिवकुमार, आरक्षक माधवराणा, उमाकांत, राम प्रवेश, मनीष, दीपक की सराहनीय भूमिका रही।

 

शेयर करें: