साप्ताहिक बाजार जाने वाले हो जाएं सावधान…..!:बाजार में मोबाइल चोर गैंग सक्रिय



जबलपुर/सिहोरा:नगर के साप्ताहिक बाजार से मोबाइल चोरी की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। पुलिस गश्त न होने और संदिग्धों पर नजर न रख पाने की वजह से इन घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है।सोमवार को स्व. अरुणाम घोष मेमोरियल स्टेडियम के सामने लगने वाले साप्ताहिक बाजार से हर सप्ताह मोबाइल चोरी हो रहे है यह सिलसिला आजकल का नहीं बल्कि पिछले ढाई साल से लगातार साप्ताहिक बाजार में ऐसी घटनाएं सामने आ रही है। इन वारदातों के बावजूद पुलिस ने बाजारों में न तो गश्त बढ़ाई है और न ही संदिग्धों पर नजर बनाई हुई है।जिसके कारण चोरी की वारदातें रुक नहीं रही है। वही मोबाइल चोरी होने के बाद भी पुलिस केवल मोबाइल गुम होने की सूचना दर्ज कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर लेती है

*बाहरी गैंग का कारनामा*

जानकार बताते है कि मोबाइल चोरी की वारदातों के पीछे बाहरी गैंग का हाथ है। इस गैंग में शामिल महिलाएं बच्चों के साथ बाजार आती हैं और साड़ी का पल्ला डालकर बड़ी सफाई से मोबाइल चोरी की वारदातों को अंजाम देती हैं। अक्सर चोरी की वारदातें उन मोबाइल धारकों के साथ होती है जो मोबाइल धारक अपना मोबाइल सामने की जेब में रखते हैं। मोबाइल चुराने के बाद यह गैंग बाजार से तुरन्त नदारद हो जाते है जहां मोबाइल के अलग-अलग पार्ट्स निकालकर बेच दिए जाते हैं।
जानकारों ने बताया कि चोरी के मोबाइल बडे शहरो मे पुर्जे पुर्जे कर बेच दिये जाते है। पुलिस को इस तरफ ध्यान देना चाहिए, यही नहीं उसे बाजार में संदिग्धो की तलाश भी करनी चाहिए ताकि मोबाइल चोरी की वारदातों पर लगाम लगाई जा सके।
पुलिस नहीं करती FIR
चोरी की इन वारदातों के बाद पीड़ित जब थाने पहुंचता है तो पुलिस इसकी FIR दर्ज नहीं करती बल्कि आवेदक को कहलवा दिया जाता है कि वह फोटो कॉपी की दुकान से छपा हुआ फार्मेट ले आए, जिसमें मोबाइल गुमने का उल्लेख होता है। पुलिस सारे मोबाइलों को गुम बताते हुए आवेदन ले लेती है। कुछ आवेदकों के बहुत दबाव बनाने के बाद FIR तो की गई लेकिन उसकी जांच अब भी नहीं की गई है।
*अब तो पर्स,चेन पर भी हाथ साफ*
पुलिस की निष्क्रिय कार्यप्रणाली के चलते चोरों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि आज साप्ताहिक बाजार मैं शाम 5:00 बजे के लगभग एक लड़की का पर्स तथा एक वृद्ध महिला की चैन चोर गिरोह ने पार कर दी

*पुलिस का दावा, गश्त बढ़ाई*
इस मामले में टी आई गिरीश धुर्वे ने बताया कि पुलिस की संदिग्धों पर लगातार नजर बनी हुई है। हर बाजार में पुलिस कर्मी भेजे जा रहे है। चीता पार्टी को भी साप्ताहिक बाजार मैं तैनात किया गया है । जहां एक और पुलिस गश्त बढ़ाने का दावा कर रही है वही साप्ताहिक सब्जी बाजार के बीच लगे अंडे के ठेलों में शराबी जाम छलकाते हुए देखे जा सकते है, बाजार में तकरीबन 4 से 5 अंडे के ठेले लगे रहते है जिसमे आसामाजिक तत्व दिनदहाड़े बाजार के बीच शराबखोरी करते देखे जा सकते है ,
*इनका कहना है*
महिला की चेन गिर गई अथवा चोरी हुई है इसकी जानकारी महिला स्पष्ट नहीं बता पा रही। साप्ताहिक बाजार के दिन अत्यधिक भीड़ रहती है जिसके चलते मोबाइल पर आदि गुम हो रहे हैं।
गिरीश धुर्वे
थाना प्रभारी सिहोरा

शेयर करें: