फेसबुक मित्र ने युवती से एक्सीडेंट का बहाना बनाकर,ले लिए नगदी 85 हजार रुपये सहित सोने के जेवर,ऐसे खुला राज

 

जबलपुर:आरोपी ने युवती से पहले फेसबुक में दोस्ती की फिर उसके घर के इर्द गिर्द चक्कर लगाना सुरु कर दिए,इसी बीच जब दोनों में दोस्ती बढ़ गई तो मोके का फायदा उठाकर आरोपी ने अपने मित्रों की सहायता से खुद के झूठे एक्सीडेंट की कहानी बनाकर युवती से इलाज के नाम पर पैसे मांगे और युवती ने आरोपियों के जाल में फसकर नगदी 85 हजार रुपये सहित सोने के जेवर भी दे दिए लेकिन आरोपी के ही एक मित्र ने इस पूरे झूठ का पर्दाफाश करते हुए युवती को सच्चाई बता दी ,

ये है पूरा मामला,

मामला शहर के सिविल लाईन थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक  18 साल की एक युवती ने लिखित शिकायत की कि उसकी दोस्ती अनित पांडे निवासी लालमाटी कांचघर से एक डेढ माह पूर्व फेसबुक के माध्यम से हुई थी जो उसके घर के सामने आये दिन चाय पान केे टपरों पर खडा रहता था, जयेश वर्मा एवं हिमाँशु रजक भी अनित पांडे के दोस्त है, 25 नवम्बर 2019 को दोपहर करीब 01.30 बजे हिमाँशु रजक ने फोन पर बोला की अनित पांडे का बहुत बडा एक्सीडेंट हो गया है उसे अस्पताल मे भर्ती करना है ईलाज के लिए पैसो की जरूरत है तब उसने हिमाँशु एवं अनित के कहने पर उनके बताये अनुसार मीना साहनी नाम के खाते मे अलग-अलग दिनों में 85 हजार रूपये डाल दिये, उसने 35 हजार रूपये विकास कुकरेजा से उधार लिये थे। उसनेे अनित पांडे को देखने आने की बात की तो अनित पाण्डे ने नागपुर में ईलाज कराना बताया और हिमाँशु बोला कि अर्जेन्ट आपरेशन होना है और पैसो की जरूरत पडेगी तब उसने मानवीय दृष्टिकोण से चोरी छिपे अपनी मम्मी के सोने के चार कंगन एंव एक चेन वजनी 5 तोला के दे दिये थे उसके बाद से अनित उससे कम बात करने लगा । जयेश से बात करने पर जयेश ने बताया कि अनित ,हिमाँशु ने आपसे झूठ बोलकर पैसे और जेवर लिये है तब उसने अनित से बात की तो अनित ने बोला अगर किसी को यह बात बताई तोे जान से खत्म कर दूँगा। तब उसने यह बात अपने मम्मी पापा को बताई । अनित ने अपने अन्य दोस्तो के साथ मिलकर अपने झूठे एक्सीडेंट एंव आपरेशन की कहानी बताकर धोखाधडी कर उससे 85 हजार रूपये नगद व 5 तोला वजनी सोने के जेवरात ले लिये है ।

आरोपियों के खिलाप धोखाधड़ी का मामला दर्ज 

वहीँ पुलिस द्वारा की गई सम्पूर्ण जांच पर अनित पांडे, हिमाँशु रजक, राजेश श्रीवास, जयेश वर्मा द्वारा झूठी कहानी बनाकर नगद 85 हजार रूपये तथा सोने के चार नग कंगन एंव 1 चेन लेते हुये किसी को नही बताने का कहकर जान से मारने की धमकी देते हुये धोखाधडी करना पाया जाने पर अनित पांडे, हिमाँशु रजक, राजेश श्रीवास, जयेश वर्मा के विरूध धारा 420,506,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विेेवेचना मे लिया गया एवं आरोपियों की तलाश करते हुये प्रकरण में राजेश श्रीवास निवासी ब्रजमोहन नगर तथा जयेश वर्मा निवासी बडी ओमती की विधिवत गिरफ्तारी की गयी अनित पाण्डे एवं हिमांशू रजक घटना दिनाॅक से फरार थे, जिनकी गिरफ्तारी पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा 3-3 हजार रूपये के नगद पुरूस्कार की उद्घोषणा की गयी।प्रकरण में फरार दोनों आरोपियेां की गिरफ्तारी हेतु समय समय पर दबिश दी जा रही थी, आज दिनाॅक 15-1-21 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर क्राईम ब्रांच की टीम द्वारा घेराबंदी कर हिमांशू रजक पिता राकेश रजक उम्र 19 वर्ष निवासी तेल मिल पुल के पास कुचबंधिया मोहल्ला घमापुर को पकड़कर थाना सिविल लाईन के सुपुर्द किया गया है, जिसकी प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तारी की जा रही है।3 हजार रूपये के फरार ईनामी आरोपी को पकड़ने मे क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक प्रमोद पाण्डे, अजय पाण्डे, आरक्षक रामगोपाल विश्वकर्मा, ब्रम्हप्रकाश, खुमान सिंह, राममिलन, अजय लोधी की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: