कोरोना से प्रभावित हो रही शैक्षणिक व्यवस्था,अभाविप 

जबलपुर : मध्यप्रदेश में जैसे -जैसे कोरोना पैर पसार रहा है वैसे ही  प्रदेश की शैक्षणिक व्यवस्था भी प्रभावित होने लगी है ,साथ ही कोविड – 19 के बढ़ते प्रकोप के कारण एक बार फिर प्रदेश के विश्वविद्यालय की परीक्षाएं प्रभावित होती दिखाई दे रही है।जिसके कारण प्रदेश का समूचा विद्यार्थी वर्ग असमंजस की स्थिति में है, ऐसे में सरकार का यह दायित्व बनता है कि त्वरित रूप से विश्वविद्यालय परीक्षाओं के बारे में उचित निर्णय कर विद्यार्थियों को इस असमंजस की स्थिति से बाहर लाएं।अभाविप की प्रदेश मंत्री सुश्री सुमन यादव  ने बताया कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए तथा भविष्य में संचालित होने वाले शैक्षणिक सत्र को सामने रखते हुए अभाविप का यह सुविचारीत मत है, कि राज्यशासन एवं विश्वविद्यालय प्रबंधन स्नातक प्रथम वर्ष, द्वितीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों हेतु वैकल्पिक मूल्यांकन के माध्यम से परीक्षा आयोजित कराई जाएं तथा कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के आकलन के पश्चात ही कुछ समय अंतराल के बाद स्नातक एवं स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षा हेतु भी यथोचित निर्णय लिया जाए।

शेयर करें: