शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सरलता से पात्र व्यक्तियों को खाद्यान्न सुनिश्चित हो,कलेक्टर

जबलपुर, कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा की अध्यक्षता में आज लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। इस दौरान अपर कलेक्टर  संदीप जी आर,हर्ष दीक्षित,  राजेश बाथम और  बी पी दवेदी सहित सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।बैठक में लंबित पत्रों के समीक्षा के साथ ही सीएम हेल्पलाइन व 300 दिनों से अधिक के लंबित प्रकरणों की समीक्षा कर शासन की प्राथमिकता से जुड़े विषयों और आम जनता को त्वरित रूप से योजनाओं का लाभ पहुंचाने के संबंध में चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।इस दौरान उन्होंने कहा कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सरलता से पात्र व्यक्तियों को खाद्यान्न सुनिश्चित हो। इसके साथ ही उन्हें नई पात्रता पर्ची का वितरण भी करें। शहरी क्षेत्र में खाद्यान्न वितरण के लिए एक टीम बनाएं और विशेष अभियान चलाकर पात्र हितग्राहियों को खाद्यान्न वितरण कराएं,यदि उनके आधार या अन्य कारणों से पात्रता नहीं बनती है तो उसे देखें और पात्रता की श्रेणी में यदि आ रहा है तो उसे प्राथमिकता से खाद्यान्न सुनिश्चित कराएं। सभी अधिकारी यह निगरानी रखें कि कहीं सेल्समैन के कारण खाद्यान्न वितरण में लापरवाही ना हो। खाद्यान्न वितरण के संबंध में उन्होंने कहा कि प्रत्येक राशन दुकान का अधिकारी सत्यापन करें।कलेक्टर  शर्मा ने कहा कि खाद्यान्न वितरण को लेकर खादय आपूर्ति विभाग, नगर निगम व ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत सचिव सतर्कता और तत्परता से काम करें। जिससे सभी पात्र व्यक्तियों को समय पर खाद्यान्न सुनिश्चित हो सके। इसमें यदि कहीं लापरवाही पाई जाती है तो उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि पात्रता पर्ची व राशन साथ-साथ दिलवाए और इसे उच्च प्राथमिकता से करें।सीएम हेल्पलाइन में समय सीमा पर प्रकरणों के निराकरण देरी होने पर आयुर्विज्ञान अधिकारी, सीएमएचओ, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, चिकित्सा शिक्षा और जिला चिकित्सालय के प्रभारी अधिकारी को शो कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि शासन की योजनाओं से कोई भी पात्र व्यक्ति वंचित ना रहे। हर पात्र व्यक्तियों को योजनाओं से लाभान्वित करें। इसके लिए उन्होंने प्रोजेक्ट अभ्युदय के तहत कहा कि सभी अधिकारी-कर्मचारी गांव में जाएं और पात्र हितग्राहियों को चिन्हित करें और उन्हें शासन की योजनाओं का लाभ दिलाएं। यह काम प्राथमिकता से व सक्रियता से करें। उन्होंने कहा कि जिस जनपद में अभ्युदय अंतर्गत सर्वे हो चुका है और कितने लाभान्वित हो गए हैं इसकी जानकारी भी उन्हें तत्काल सुनिश्चित कराएं।बैठक के दौरान उन्होंने अंतर विभागीय विषयों के संबंध में चर्चा कर मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि, स्ट्रीट वेंडर योजना की समीक्षा की। किसान सम्मान निधि के संबंध में कहा कि 29 तारीख को मुख्यमंत्री किसान सम्मान योजना का कार्यक्रम मानस भवन में आयोजित किया जाएगा।बैठक में पल्स पोलियो अभियान के संबंध में कहा कि पल्स पोलियो अभियान 31 जनवरी से 2 फरवरी तक चलेगा जिसमें कोविड-19 का पालन करते हुए पल्स पोलियो का टीका लगेगा। इसके लिए सभी संबंधित अधिकारी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित कर लें।

शेयर करें: