कोरोना काल में एसपी ने ली राजपत्रित अधिकारियों की बैठक दिए ये निर्देश

 

जबलपुर :पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा ने जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों की  बैठक, लेेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये पुलिस कन्ट्रोलरूम जबलपुर मे आज दिनाॅक 23-5-21 को रात्रि 8 बजे पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.), द्वारा बैठक ली गयी। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर  रोहित काशवानी (भा.पु.से.), अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध  गोपाल प्रसाद खाण्डेल , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर/यातायात  संजय कुमार अग्रवाल, अतिरिक्त ग्रामीण  शिवेश सिंह बघेल, सहित जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारी उपस्थित थे।पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने कहा कि जिले में पदस्थ समस्त अधिकारी/कर्मचारी बहुत ही अच्छी ड्यूटी कर रहे हैं, थाने में एक रजिस्टर रखा जाये, रख्ेा गये रजिस्ट्रर में एैसे अधिकारी/ कर्मचारी जो संक्रमित होकर अस्पताल मे उपचारार्थ भर्ती है या होम क्वारेंटाईन है उनकी स्वास्थ सम्बंधी अद्यतन स्थिति का उल्लेख करते हुये उनसे प्रतिदिन सम्बंधित थाना प्रभारी एवं राजपत्रित अधिकारी चर्चा करें कि उन्हें व उनके परिवार में किसी प्रकार की कोई समस्या तो नहीं है, यदि है तो तत्काल उसका समाधान करते हुये मुझे अवगत करायें, साथ ही रखे गये रजिस्टर में चर्चा का उल्लेख थाना प्रभारी, नगर पुलिस अधीक्षक/एस.डी.ओ.पी. एंव अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा किया जावे,

थाना आने वाले फरियादी को मास्क लगाना जरूरी 

वहीँ एसपी ने कहा की हमारा मुख्य उद्देश्य है अधिकारियों एवं क्रर्मचारियों तथा उनके परिवार को किसी प्रकार की कोई समस्या न हो । साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के सम्बंध में थानों मे पदस्थ अधिकारी/कर्मचारियो को प्रतिदिन गणना मे ब्रीफ किया जाये कि ये लडाई लंबी है, ड्यूटी के दौरान सामाजिक दूरी बनाकर रखे, हर आधा-एक घंटे में सैनेटाईजर का उपयोग करें एवं साबुन पानी से हाथ धोयें, इसी प्रकार जब फरियादी थाने आता है मास्क लगाया हुआ हो सुनिश्चित करें तथा उनके भी हाथ साबुन पानी से धुलवायें जायें ।7 साल से कम सजा वाले प्रकरणों में गिरफ्तारी के सम्बंध में मान्नीय उच्च न्यायालय द्वारा जारी दिशा निर्देशों का कडाई से पालन किया जाये इस हेतु थाने मे पदस्थ समस्त विवेचकों को गणना में दिशा निर्देशों से अवगत कराया जावे, गाॅवों में जमीन सम्बंधी एवं पुराने विवादों को चिन्हित कर सभी के विरूद्ध प्रभावी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करते हुये सभी को बाउंडओवर कराया जाये।
काला बाजारी करने वालों एवं मिलावटखोरों, तथा संगठित जुआ सट्टा खिलाने वालों, अवैध शराब एवं मादक पदार्थ / नशीले इंजेक्शन के कारोबार में लिप्त आरोपियेां को चिन्हित करते हुये कार्यवाही करें साथ ही उनके विरूद्ध उनके आपराधिक रिकार्ड को दृष्टिगत रखते हुए प्रभावी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही, 110 जाफौ. जिलाबदर, एन.एस.ए. की जाये।पूर्व मे घटित हुये लंबित सम्पत्ति सम्बंधी अपराध लूट, नकबजनी, चोरी के प्रकरणों में ईनाम उद्घोषित कराते हुये आरेापियांे की पतासाजी कर चोरी गयी सम्पत्ति की बरामदगी के हर सम्भव प्रयास किये जाये। महिलाओं, बच्चों, वृद्धों एवं समाज के कमजोर वर्गो के प्रति संवेदनशील रहते हुये इनके द्वारा की गयी शिकायतों पर तत्काल विधिसंगत कार्यवाही करते हुये राहत पहुचंाये, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहंी होना चाहिये , आपके द्वारा की गयी कार्यवाही निष्पक्ष एवं पारदर्शी होनी चाहिए।आपने उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सी.एम. हेल्प लाइन से संबंधित शिकायतों की थाना प्रभारी स्वयं सुनवाई करते हुए शिकायतकर्ता से विनम्रता पूर्वक चर्चा करें एवं उनकी जो भी शिकायत है वैधानिक कार्यवाही करते हुए उसका प्राथमिकता के आधार पर त्वरित निकाल करें एवं शिकायतकर्ता को की गई कार्यवाही से अवगत भी करायें।
थानों में लंबित अपराधों में फरार आरोपी, फरार उद्घोषित अपराधी, तथा एैसे आरोपी जिनका फरारी मे चालान पेश किया गया है, एवं एैसे आरोपी जो कि 173(8) जाफौ मे वान्टेड हैं, उनकी तलाश पतासाजी कर अविलम्ब गिरफ्तारी की जाये साथ ही थाना क्षेत्र के सक्रीय आसमाजिक तत्वों, गुण्डे बदमाशो के विरूद्ध उनके आपराधिक रिकार्ड को दृष्टिगत रखते हुये प्रभावी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करें, आपकी कार्यवाही से पुलिस का बदमाशों में खौफ एवं आम आदमी मे विश्वास होना चाहिये, एैसे गुण्डे बदमाश जिन पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गयी है, यदि उन्होनें बंधपत्र का उल्लंघन किया गया है तो उनके विरूद्ध तत्काल 122 जा.फौ. के तहत कार्यवाही करें। कोरोना वायरस संक्रमण को ध्यान में रखते हुये जनता कोरोना कफ्र्यू का कड़ाई से पालन करायें, जो लोग मास्क नहीें लगा रहे है, सोशल डिस्टंेस का पालन नहीं कर रहे हैं उनके विरुद्ध नियमानुसार चालानी कार्यवाही की जाये, इसके साथ ही प्रशासनिक एवं नगर-निगम के अधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से भ्रमण करते हुए ऐसे दुकानदार जो उल्लंघन कर रहे हैं, उनके विरूद्ध 188, 269, 270 भा.द.वि. एवं आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत कार्यवाही की जाये। कार्यवाही हेतु चैकिंग प्वाईट पर जो भी अधिकारी/कर्मचारी लगाये जाते हैं उन्हें ब्रीफ करके लगाया जाये।

शेयर करें: