पोषण पुनर्वास केन्द्र में खाली न रहें एक भी बेड, बच्चों को कराएं भर्ती



कटनी/स्लीमनाबाद(सुग्रीव यादव): कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने गुरूवार को विजयराघवगढ़ सिविल अस्पताल का आकस्मिक निरीक्षण किया। अस्पताल की व्यवस्थाएं देखीं और आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर श्री मिश्रा ने पंजीयन कक्ष की व्यवस्थाएं देखीं और जमीन पर पड़ी किट देखकर नाराजगी जाहिर कर उन्हें व्यवस्थित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने पंजीयन काउंटर के रजिस्टर का भी अवलोकन पंजीयन कर रहे कर्मचारियों से आवश्यक जानकारी ली। काउंटर पर क्यूआर कोड की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए।कलेक्टर श्री मिश्रा ने अस्पताल की ओपीडी का निरीक्षण किया और उपस्थित चिकित्सकों से जांच आदि के संबंध में जानकारी ली। नेत्र विभाग में मशीनों से आंखों की जांच कराकर भी कलेक्टर श्री मिश्रा ने देखा। ओपीडी के बाहर प्रकाश व बैठने की समुचित व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। आने वाले मरीजों व उनके परिजनों की जानकारी के लिए लगाए साइन बोर्ड भी व्यवस्थित कराने के निर्देश दिए गए।कलेक्टर श्री मिश्रा ने पोषण पुनर्वास केन्द्र का निरीक्षण किया और भर्ती बच्चों की माताओं व प्रभारी से जानकारी ली। साथ ही कहा कि शिविरों के माध्यम से लगातार बच्चे चिन्हित किए जा रहे हैं और ऐसे में केन्द्र का एक भी बेड खाली न रहे, इसकी व्यवस्था कराएं। उन्होंने कहा कि चिन्हित बच्चे केन्द्र तक पहुंच रहे हैं या नहीं इसपर एसडीएम भी निगरानी रखें।

अम्मा डॉक्टर, नर्स ने अच्छे से किया इलाज

सिविल अस्पताल के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री मिश्रा ने परिसर में बैठे मरीजों के परिजनों से भी संवाद किया। विजयराघवगढ़ निवासी प्रेमबाई अपनी बहन की बेटी का प्रसव कराने आई थीं। कलेक्टर प्रेमबाई से इलाज के संबंध में जानकारी लेते हुए पूछा कि अम्मा बेटी का इलाज डॉक्टर, नर्स ने अच्छे से किया या नहीं, जिसपर परिजनों ने बताया कि इलाज बहुत अच्छे से हुआ है। व्यवस्थाआंे को लेकर कलेक्टर श्री मिश्रा ने संतोष जताया। इस दौरान एसडीएम महेश मंडलोई, बीएमओ डॉ. विजय कुमार, तहसीलदार विजय द्विवेदी, सीईओ जनपद राकेश शुक्ला, डॉ. धनेश्वरी सिंह, थाना प्रभारी विजयराघवगढ़ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

शेयर करें: