जंगल में भट्टी लगाकर उतारी जा रही थी कच्ची शराब पर क्राइम ब्रांच व पुलिस की सँयुक्त कार्यवाही 

 

जबलपुर ;जंगल के अंदर चोरी छुपे तैयार की जा रही कच्ची शराब पर आज  क्राइम ब्रांच व पुलिस ने सँयुक्त कार्यवाही करते हुए उतारी हुई 125 लीटर कच्ची शराब जप्त कर, 15 ड्रमों में भरा लगभग 3 हजार लीटर लाहन एव 3 भट्टियों केा  नष्ट करने की कार्यवाही की गई है ,गौरतलब है की पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा जिले मे पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को अवैध मादक पदार्थ/शराब की तस्करी में लिप्त लोगों को चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है।आदेश के परिपालन में अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण /अपराध  गोपाल खाण्डेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल  अशोक तिवारी के मार्ग दर्शन क्राईम ब्रांच एवं थाना पनागर पुलिस के द्वारा ग्राम बिछुआ स्थित सिद्धबाबा के जंगल में दबिश देते हुये उतारी हुई 125 लीटर कच्ची शराब जप्त करते हुये 15 ड्रमों में भरा लगभग 3 हजार लीटर लाहन एव 3 भट्टियों केा नष्ट किया गया है।

जंगल के अंदर बनाई जा रही थी शराब 

मामला पनागर थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आज दिनाॅक 4-5-21 को क्राईम ब्रांच को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि ग्राम बिछुआ निवासी भूरा यादव अवैध कच्ची शराब के कारोबार में लिप्त है, ग्राम बिछुआ के सिद्धबाबा के जंगल मे भारी मात्रा में कच्ची शराब उतारने हेतु लाहन तैयार करते हुये कच्ची शराब उतार रहा है। सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये क्राईम ब्रांच एवं पनागर पुलिस के द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पनागर स्थित सिद्धबाबा के जंगल मे दोपहर 3 बजे दबिश दी गयी, 3 भट्टी लगाकर कच्ची शराब उतार रहा ग्राम बिछुआ निवासी भूरा यादव मौके से जंगल में अंदर की ओर भाग गया। चैक करने पर प्लास्टिक की केनों में लगभग 125 लीटर कच्ची शराब उतारकर भरी हुई मिली , 3 भटिटयाॅ लगी हुई थी जिनसे कच्ची शराब उतारी जा रही थी आसपास तलाशी ली तो 15 ड्रमों में लगभग 3 हजार लीटर लाहन भरा हुआ मिला, लाहन एवं भट्टियों को नष्ट करते हुये मौके से 125 लीटर कच्ची शराब जप्त करते हुये आरोपी भूरा यादव निवासी ग्राम बिछुआ के विरूद्ध थाना पनागर में धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुये फरार आरोपी की तलाश जारी है।

*उल्लेखनीय भूमिका* – उक्त कार्यवाही में काईम ब्रांच के सउनि रामसनेह शर्मा, प्रधान आरक्षक हरिशंकर शुक्ला, आरक्षक अजीत पटेल, राजेश केवट, अनिल शर्मा एवं थाना पनागर के सहायक उप निरीक्षक विनोद दाहिया, आरक्षक लवकुश यादव , विक्रांत नागवंशी की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: