नकली नमकीन के कारखाने पर क्राईम ब्रांच और पुलिस की सँयुक्त कार्यवाही 

 

भारी मात्रा में कीड़े लगे सिघाड़े की गोटी जप्त इससे बनाई जाती थी फलाहारी नमकीन 

 

जबलपुर :क्राईम ब्रांच एंव थाना कोतवाली पुलिस ने  नमकीन के कारखाने में दबिश देते हुए भारी मात्रा में कीड़े लगे हुये सिंघाड़े जिससे  फलहारी नमकीन बनाई जाती थी साबूदाना, आटा, बेसन, मैदा, पिसी हल्दी एवं मिर्च, पाम आईल, तथा कई क्वींटल तैयार किया हुआ नमकीन, एवं पैकिंग मशीन तथा 6 गैस भट्टियाॅ कीमती लगभग 10 लाख रुपये की को किया गया सील करते हुए कार्यवाही की है,गौरतलब है की एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा जबलपुर जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को आवश्यक वस्तु की कालाबाजारी में लिप्त तथा मानव जीवन को संकटा उत्तपन्न करने वाले मिलावटखोरों, सूदखोरों, भूमाफिया को चिन्हित करते हुये सभी के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने हेतु आदेशित किया गया है।आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) अमित कुमार (भा.पु.से.) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दक्षिण/अपराध  गोपाल खाण्डेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली  दीपक मिश्रा के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच एवं कोतवाली पुलिस के द्वारा थाना कोतवाली अंतर्गत राजीव नगर चेरीताल में नमकीन बनाने के कारखाने में दबिश देते हुए भारी मात्रा में कीड़े लगे हुये सिंघाड़े जिससे बनाता था फलहारी नमकीन, के साथ साथ साबूदाना, आटा, बेसन, मैदा, पिसी हल्दी एवं मिर्च, पाम आईल, तथा कई क्वींटल तैयार किया हुआ नमकीन, एवं पैकिंग मशीन तथा 6 गैस भट्टियाॅ कीमती लगभग 10 लाख रुपये का किया गया सील।

 

 

कीड़े लगे सिघाड़े से बनती थी फलाहारी नमकीन 

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक  दिनाॅक 24-2-21 केा क्राईम ब्रांच कोे विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि थाना कोतवाली अंतर्गत राजीव नगर चेरीताल में जितेन्द्र कुमार जैन जो कि मूलतः कुटेरा जिला दमोह का रहने वाला है , किराये का मकान लेकर अमानक चीजों एवं कीड़े लगे सिंघाड़ों से नमकीन बना रहा है।
सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुए क्राईम ब्रांच एवं थाना कोतवाली पुलिस के द्वारा संयुक्त रूप से दबिश दी गयी, नमकीन के कारखाने मे जितेन्द्र कुमार जैन उम्र 36 वर्ष का मिला, जिसने किराये का मकान लेकर लक्ष्मी नमकीन के नाम पर नमकीन के प्रोडैक्ट बनाना बताया, चैक करने पर 50 किलो की 8 बोरियों में कीड़ा लगा हुआ सिंघाड़ा भरा हुआ मिला जिससे फलहारी नमकीन बताया, इसके साथ ही लगभग 1100 किलो मैदा, , 650 किलो आटा, 850 किलो साबूदाना, 150 किलो बेसन, 40 किलो पिसी मिर्च, 40 किलो हल्दी, एवं 15 लीटर वाले पाॅम आईल के 35 टीन तथा लगभग 3500 किलो तैयार किया हुआ फलहारी नमकीन, , मिक्चर नमकीन, सोन पापड़ी, चकली, ड्राई समोसे एवं कचौड़ी बिना लेबल के पैकिटों में पैक किये हुये एवं पाॅलीथीन मे भरे हुये तथा 1 बड़ी पैकिंग मशीन एवं 6 भट्टियाॅ जिसे डीजल से जलाया जाता था, लगी हुई मिली।
खाद्य अधिकारियों को सूचित किया गया सूचना पर पहुचे खाद्य निरीक्षक विनोद धुर्वे की उपस्थिति में जाॅच करते हुए सैम्पलिंग करते हुये लगभग 10 लाख रूपये कीमती सामान को प्रथम दृष्टया लाइसेंस की शर्तों का पालन न करना पाए जाने पर सील किया गया है। खाद्य अधिकारी के प्रतिवेदन पर थाना कोतवाली में अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

इन जगहों पर होती थी सप्लाई 

वहीँ पुलिस की प्रारम्भिक पूछताछ पर जितेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि जबलपुर के अलावा, सिवनी, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, दमोह, शहड़ोल आदि जिलों में नमकीन सप्लाई करता है।
*उल्लेखनीय भूमिका* – कीड़े लगे हुये सिंघाड़े से फलहारी नमकीन बनाने के कारखाने का पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी कोतवाली  अनिल गुप्ता के नेतृत्व में क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, आरक्षक बृजेंद्र कसाना, बीरबल, मोहित उपाध्याय, नितिन मिश्रा, नीरज तिवारी, थाना कोतवाली के उप निरीक्षक संध्या चंदेल, आरक्षक सौरभ तिवारी, राजेन्द्र रघुवंशी की सराहनीय भूमिका रही।

 

शेयर करें: