सहकारी केन्द्रीय बैंक की लिपिक गिरफ्तार ,गबन के मामले में दो साल से थी फरार 

 

जबलपुर:गबन के मामले  में पिछले 2 साल  से फरार चल रही  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा कृषि उपज मण्डी की लिपिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है,थाना प्रभारी विजय नगर  सोमा मलिक ने बताया कि अजीत यादव उम्र 50 वर्ष ने लिखित शिकायत की थी कि वह जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा कृषि उपज मण्डी जबलपुर मे सहायक लेखापाल के पद पर पदस्थ है। श्रीमति सरोज यादव जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा कृषि उपज मण्डी जबलपुर में लिपिक के पद पर पदस्थ थी , श्रीमति सरोज यादव द्वारा श्री सीताराम चौधरी एवं सचिव कृषि उपज मण्डी जबलपुर के संयुक्त नाम से बनायी रसीद दिनॉक 8-7-2008 मे एक लाईन खींचकर कैंसिल कर कैंसिल रसीद काउटर फाईल मे लगी थी, जिसे श्रीमति सरोज यादव द्वारा परिपक्वता पूर्व भूगतान आदेश बिना सक्षम अधिकरी के करते हुये फर्जी सेविंग खाते में राशि जमा किया, एवं फर्जी भुगतान करना पाया गया, उल्लेखित कैंसिल रसीद मद्दती अमानत रसीद की ब्याज सहित राशि को फर्जी सेविंग खाता खोलकर जमा करना एवं उसी दिनॉक 15-10-2009 को ही फर्जी सेविंग खाते से राशि 80 हजार रूपये का भुगतान करना एवं के.वाय.सी.के. नियम का पालन न करना पाया गया, खोले गये फर्जी सेविंग खाता को खोलने के लिये हस्ताक्षर, नमूना के हस्ताक्षर से भिन्न होते हुये प्रमाणित करने में चूक करना एवं किसी सक्षम अधिकारी से खाता खोलने की अनुमति नहीं लेना पाया गया, श्री सीताराम चौधरी के नमूना हस्ताक्षर से खोले गये फर्जी सेविंग खाता में किये गये हस्ताक्षर का वास्तविक सीताराम चौधरी के हस्ताक्षर से मिलान नहीं होना अर्थात सीताराम चौधरी के फर्जी हस्ताक्षर से खाता खोला जाना एवं राशि 80 हजार रूपये को भुगतान कर गबन करना पाया जाने पर श्रीमति सरोज यादव के विरूद्ध दिनॉक 31-7-19 को धारा 409 भादवि का अपराध पजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।आरोपीया की गिरफ्तारी के प्रयास किये गये जो सकूनत से वर्ष 2019 से लगातार फरार चल रही थी ।

घर आते ही गिरफ्तार

वहीं पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा समस्त राजपत्रित अधिकारियेां एवं थाना प्रभारियों को लंबित मामले मे फरार एवं उद्घोषित ईनामी आरोपियो की तलाश पतासाजी कर अविलम्ब गिरफ्तारी हेतु आदेशित किया गया है।आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध  गोपाल खाण्डेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक तुषार सिह के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी विजय नगर  सोमा मलिक के नेतृत्व मे एक टीम गठित कर लगायी गई ।गठित टीम को दौरान तलाश के दिनाँक 23/08/21 को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि फरार आरोपिया सरोज यादव अपने घर पर आई हुई है, सूचना पर तत्काल आरोपिया के घर पर दबिश देते हुये आरोपिया सरोज यादव पति महेन्द्र यादव निवासी महावर किराना केे पास धोबीघाट थाना गोराबजार को अभिरक्षा में लेते हुये प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है।

उल्लेखनीय भूमिका* – गबन के प्रकरण में पिछले 2 वर्षो से फरार आरोपिया को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी विजय नगर  सोमा मलिक , उप निरीक्षक लालजी प्रसाद दुबे, कऱण सिह, अभिषैक कैथवास , सहायक उप निरीक्षक घासीराम उइके , प्रधान आरक्षक पंचमलाल, आरक्षक विजय सिह, रामअवतार तिवारी, राम सिह महिला आरक्षक संघमित्रा की सराहनीय भूमिका रही ।

शेयर करें: