मुख्यमंत्री ने कटनी जिले के संबल योजना के 448 हितग्राहियों के खाते में 10 करोड़ से अधिक की राशि की अंतरित

कटनी,ब्यूरो(सुग्रीव यादव): मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कटनी जिले के मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना एवं मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल योजना के 448 हितग्राहियों को 10 करोड़ 14 लाख रुपये की अनुग्रह सहायता राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से अंतरित की। इस मौके पर कटनी के कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी कक्ष में कलेक्टर प्रियंक मिश्रा, अपर कलेक्टर रोमानुस टोप्पो, जिला श्रम अधिकारी सूर्यकांत सिरवैया सहित हितग्राही गणों ने मुख्यमंत्री के संबोधन को वर्चुअली देखा व सुना। कलेक्टर ने इस दौरान हितग्राहियों को प्रतीक स्वरुप स्वीकृति प्रमाण पत्र व ई-भुगतान आदेश प्रदान किये।मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम से वर्चुअली जुड़े मुख्यमंत्री श्री चौहान से संबल योजना में प्रदेश के 27 हजार 18 श्रमिक परिवारों को 573 करोड़ 39 लाख रुपये की अनुग्रह सहायता राशि हितग्राहियों के खातों में अंतरित किया। मुख्यमंत्री ने संबल योजना को नया स्वरुप देते हुये संबल 2.0 पोर्टल का भी शुभारंभ किया। योजना में प्रदेश के तेन्दूपत्ता संग्राहक श्रमिकों को भी असंगठित श्रमिकों की श्रेणी में सम्मिलित किया गया है। संबल 2.0 में आवेदन एमपी ऑनलाईन अथवा लोक सेवा केन्द्रों से किये जाने और आवेदन की जानकारी श्रमिकों के मोबाईल पर एसएमएस या वॉट्सएप पर देने का प्रावधान है। योजना में वेश्रमिक भी नये सिरे से आवेदन कर सकेंगे, जो पहले अपात्र घोषित किये गये थे।विदित हो कि संबल योजना के तहत प्रदेश के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं उनके परिवार के लिये अनुग्रह सहायता का प्रावधान है। दुर्घटना से मृत्यु होने पर 4 लाख रुपये, एवं सामान्य मृत्यु पर दो लाख, स्थायी अपंगता पर भी दो लाख रुपये, आंशिक स्थायी अपंगता पर एक लाख तथा अंतिम संस्कार सहायता के रुप में 5 हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं। योजना में महिला श्रमिकों को प्रसूति सहायता के रुप में 16 हजार रुपये दिये जाते हैं, जबकि श्रमिकों के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने का प्रावधान है।एनआईसी कक्ष में हितग्राही प्रकाश बर्मन, भट्टा मोहल्ला पाठक वार्ड की सरिता दुबे, राजमुन्नी कोल, ग्राम पंचायत इमलिया की रश्मि कोरी, आधार काप जगमोहन दास वार्ड की आशा साहू सहित विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

शेयर करें: