मुख्यमंत्री ने किया 220 के.व्ही. गोराबाजार सब स्टेशन का वर्चुअल लोकार्पण

जबलपुर:शहर के करीब 60 हजार से अधिक बिजली उपभोक्ताओं को अब भरपूर बिजली मिलेगी। बिजली गुल होने पर न तो अंधेरे में रहना पड़ेगा न ही बार-बार ट्रिपिंग जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज शनिवार को मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के गोराबाजार में नवनिर्मित 220 के.व्ही. सब स्टेशन का वर्चुअल लोकार्पण कर क्षेत्रीय जनों को एक बड़ी सौगात दी है। इस सब स्टेशन के निर्माण में करीब 34 करोड़ की लागत आई है। इस सब स्टेशन के बन जाने के बाद बिजली वितरण कंपनी के पास दोहरे विकल्प मौजूद होंगे। यदि किसी सबस्टेशन नया गांव, विनोबाभावे में कोई फॉल्ट आता है तो बिजली सप्लाई नहीं रूकेगी, बल्कि अब तुरंत गोराबाजार सबस्टेशन से आपूर्ति दी जा सकेगी। साथ ही इन सब स्टेशन से जुडे उपभोक्ताओं को भी अब परेशान नहीं होगा पड़ेगा।
220 के.व्ही. गोराबाजार सब स्टेशन से लाभ :-
जायका (जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी) की वित्तीय सहायता से निर्मित 220 केवी गोरा बाजार सब स्टेशन में 160 एमव्हीए व 63 एमव्हीए क्षमता के एक-एक ट्रांसफार्मर स्थापित किए गए हैं। इन ट्रांसफार्मरों को ऊर्जीकृत करने के लिए 220 केवी जबलपुर-अमरकंटक लाइन को लिलो (लाइन इन-लाइन आउट) कर ऊर्जीकृत किया गया है। यह सब स्टेशन जबलपुर शहर के लिए उपयोगी सिद्ध होगा। गोरा बाजार सब स्टेशन के क्रियाशील होने से विद्युत व्यवस्था सुचारू और उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति होगी। इस सब स्टेशन के क्रियाशील होने से पूर्व जबलपुर को 220 केवी सब स्टेशन नयागांव, 132 के.व्ही. सब स्टेशन माढ़ोताल एवं 132 के.व्ही. सब स्टेशन विनोबा भावे से 33 केवी लाइनों के माध्यम से विद्युत प्रदाय किया जा रहा था। जिसके कारण विद्युत भार में वृद्धि के कारण व्यवधान उत्पन्न होने पर उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण  विद्युत प्रदाय करने में कठिनाई  उत्पन्न होती थी। 220 केवी गोरा बाजार सब स्टेशन के निर्माण के पश्चात् 33 के.व्ही. सब स्टेशनों को जोड़ कर विद्युत पारेषण प्रणाली  को बेहतर बनाते हुए आने वाले व्यवधानों को दूर किया गया है और उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत प्रदाय किया जाना सुनिश्चित हो गया है। वर्तमान में इस सब स्टेशन में चार 33 के.व्ही. के फीडरों से विद्युत प्रदाय किया जा रहा है एवं पांच 33 के.व्ही. के फीडरों को और जोड़ा जाना प्रस्तावित है। इसके अतिरिक्त जबलपुर शहर के भविष्य के विद्युत भार को दृष्टिगत रखते हुए सब स्टेशन परिसर में अतिरिक्त 220/132 केव्ही. के 160 एमव्हीए एवं 132/33 के.व्ही. के 63 एमव्हीए के ट्रांसफार्मर की स्थापना हेतु स्थान सुरक्षित रखा गया है।
केंट एरिया को लाभ
इस सबस्टेशन के शुरू हो जाने से केंट, कटंगा, मिल्ट्री एरिया, बिलहरी, तिलहरी, गोराबाजार, सिविल लाइंस क्षेत्र के रहवासियों को सुगम व निर्बाध विद्युत आपूर्ति हो सकेगी और तो और इन क्षेत्रों में रहने वाले सामान्य उपभोक्ताओं के साथ ही हाईटेंशन लाइन के उपभोक्ताओं को भी फायदा होगा। साथ ही सुरक्षा संस्थानों को भी बिजली सप्लाई की जा सकेगी।
नयागांव सबस्टेशन को राहत
गोराबाजार सब स्टेशन की शुरूआत हो जाने के बाद अब नयागांव सबस्टेशन का बोझ अब कम हो जायेगा। अभी इन क्षेत्रों में नया गांव 220 के.व्ही. सबस्टेशन में सप्लाई दी जाती है। नयागांव सब स्टेशन पर काफी ज्यादा दबाव रहता था। अब यह बोझ कम हो जायेगा। गोराबाजार ने नये सबस्टेशन बनने से विनोबाभावे 132 के.व्ही. सब स्टेशन से की जाने वाली बिजली आपूर्ति को भी राहत मिलेगी गोराबाजार सब स्टेशन में 33 के.व्ही. के चार फीडर तैयार किये गये हैं।

शेयर करें: