मुख्यमंत्री ने बस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को दी 7-7 लाख रूपये की सहायता राशि

 

जबलपुर, मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान सीधी जिले में हुई बस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों से मिलने आज उनके गाँव पहुँचे। परिजनों से मुलाकात कर मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि दुर्घटना पीड़ितों को सरकार की ओर से हरसंभव सहायता दी जायेगी। दु:ख की इस घड़ी में राज्य सरकार पीडि़तों के साथ हैं। उन्होंने दुर्घटना में मृत व्यक्तियों के परिजनों को आर्थिक सहायता के रूप में 7-7 लाख रूपये के चेक प्रदान किये।मुख्यमंत्री  चौहान ने आज दोपहर 2 बजे सीधी जिले के ग्राम रामपुर नैकिन पहुँचकर बस दुर्घटना के शिकार अथर्व गुप्ता के घर पहुँचकर परिजनों को सांत्वना दी। रामपुर नैकिन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जाकर दुर्घटना में घायल व्यक्तियों की कुशल-क्षेम भी जानी। उन्होंने दुर्घटना पीडि़तों के समुचित उपचार के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य केन्द्र में उपचाररत विभा प्रजापति से मुलाकात कर इनके उपचार की जानकारी ली और दुर्घटना में उनके भाई दीपू प्रजापति की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रामपुर नैकिन में ही दुर्घटना में मृत विमला द्विवेदी के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात कर शोक व्यक्त किया।मुख्यमंत्री  चौहान सड़क मार्ग से चुरहट पहुँचे और रामनगर मोहल्ले में दुर्घटना में मृत श्यामलाल साकेत के परिजनों से मुलाकात कर सांत्वना दी। उन्होंने मृतक की पत्नी शांति साकेत, पुत्री कल्पना साकेत, पुत्र आकाश साकेत तथा आशीष साकेत को ढाँढस बंधाया। उन्होंने कहा कि बच्चों की शिक्षा की पूरी व्यवस्था सरकार करेगी।मुख्यमंत्री  चौहान ग्राम पचोखर में मृतका खुशबू पटेल के घर भी पहुँचे और परिजनों को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री ने ग्राम पडरिया में मृतक अनिल पटेल तथा ग्राम कुकड़ीझर में मृतक अमर ज्योति साकेत के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात कर सांत्वना दी।मुख्यमंत्री के भ्रमण के समय पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक कल्याण एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री  रामखेलावन पटेल, सांसद सीधी  रीति पाठक, विधायक सीधी  केदारनाथ शुक्ला, विधायक चुरहट  शरदेन्दु तिवारी,  इन्द्रशरण सिंह,  सुभाष सिंह, अन्य जन-प्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे।

शेयर करें: