दहेज लोभी पति ,सास,ससुर,देवर,ननद और नंदोई के खिलाप मामला दर्ज 

 

जबलपुर :पुलिस ने आज तीन अलग -अलग थाना क्षेत्रों में दहेज लोभी पति ,सास,ससुर,देवर,ननद और नंदोई के खिलाप मामला दर्ज करते हुए मामले की जांच सुरु कर दी है,

पहला मामला,
पहला मामला थाना गोसलपुर का है जहाँ पर दिनांक 14-2-21 की दोपहर में श्रीमती रंजना बेन उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम उमरिया ने लिखित शिकायत की कि उसकी शादी मार्च 2012 के हिन्दू रीति रिवाज अनुसार मोहन बेन से हुयी थी शादी में उसके माता पिता ने अपनी हैसियत के अनुसार घरेलू सामान दिया था शादी के बाद 6 माह तक उसके ससुराल वालों ने उसे अच्छे से रखा उसके बाद उसका पति मोहन बेन, सास मीना बेन, देवर सोहन बेन, बड़ी ननद पूनम बेन, नंदोई बन्टू बेन, छोटी ननद रेखा बेन और नंदोई राजू बेन उससे कहने लगे कि शादी में तुम्हारे मायके वालों ने कम सामान दिया हैं कहते हुये   दहेज में 50 हजार रूपये एवं मोटर सायकल की मांग को लेकर उसके साथ मारपीट करइ उसे परेशान करते थे,  दिनांक 15-1-21 की रात मे घर के बर्तन साफ कर रही थी पति बाहर से आये और उसके साथ गाली गलौज करने लगे उसने गाली देने से मना किया तो हाथ मुक्कों से मारपीट कर उसे घर से बाहर निकाल दिये वह रात भर घर के बाहर बैठी रही, फिर दूसरे दिन मायके ग्राम उमरिया कैलावश आ गयी थी, 2 दिन बाद   पति, देवर, ननद और छोटा नंदोई राजू बेन उसके मायके में आकर गाली गलौज करते हुये  जान से मारने की धमकी देते हुये कहने लगे कि 50 हजार रूपये एवं मोटर सायकल लेकर आना नहीं तो मत आना। शिकायत पर आरोपी पति मोहन बेन, सास मीना बेन, देवर सोहन बेन, ननंद पूनम बेन,, नंदोई बंटू बेन , ननंद रेखा बेन एवं नंदोई राजू बेन के विरूद्ध धारा 498 ए, 294, 323, 506, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी  हैं।
दूसरा मामला,
दूसरा मामला थाना मझगवां का है जहाँ पर आज दिनांक 14-2-21 की शाम लगभग 4-30 बजे श्रीमती मनीषा गोंड़ उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम बिजैया ने रिपोर्ट दर्ज करायी कि उसकी शादी लगभग 3 वर्ष पूर्व ग्राम विजैया निवासी ओमसिंह गोंड़ के साथ हिन्दू रीति रिवाज से हुयी थी शादी में उसके पिता ने हैसियत के अनुसार सामान दिया था उसकी वर्तमान में 06 माह की बेटी अनुप्रिया है लगभग 1 वर्ष पूर्व से उसके पति ओमसिंह, सास बतसिया बाई, ससुर हेमराज, ननद कस्तूरिती बाई द्वारा उसे प्रताडि़त किया जाने लगा तथा कहते थे कि तुम्हारे पिता ने दहेज में गाड़ी नहीं दी, अपने पिता के यहां से एक मोटर सायकल एवं 40 हजार रूपये लेकर आओ तभी तुझे घर पर रखेंगें यह बात उसने अपने मायके में बतायी उसके मायके पक्ष के लोगों ने ससुराल पक्ष के लोगों को बहुत समझाया, उसके ससुराल वाले उसके माता पिता की बात मानने को तैयार नहीं हैं। रिपोर्ट पर धारा 498 ए, भादवि तथा 3, 4 दहेज अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी ओम सिंह गोंड़, हेमराज सिंह गोंड़, बतसिया बाई गोंड़, कस्तूरिती बाई  की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।
तीसरा मामला,
तीसरा मामला  थाना रांझी का है जहाँ पर आज दिनांक 14-2-21 की देपहर लगभग 3-30 बजे श्रीमती पूनम शर्मा उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम अंधुआ पनागर ने लिखित शिकायत की कि उसका विवाह दिनांक 4-5-2017 को हिन्दू रीति रिवाज से रांझी निवासी श्रीकांत शर्मा के साथ हुआ था, विवाह में उसके पिता ने 5 लाख रूपये से ज्यादा खर्च किये थे एक लाख रूपये लगुन में दिये थे, एंव घरेलू सामान एवं जेवर आदि दिये थे, विवाह के बाद ससुराल वालें कुछ समय तक उसे ठीक से रखे उसके बाद उसका पति नौकरी लगवाने के लिये 4 लाख रूपये मायके से लाने के लिये बोलने लगा, उसने रूपये लाने से मना किया तो उसके पति श्रीकांत शर्मा, जेठ रविकांत शर्मा, जेठानी लक्ष्मी शर्मा, उसे मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगे बार बार उसके साथ गाली गलौज कर मायके से 4 लाख रूपये लाने के लिये दबाव बनाते हुये उसे मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताडि़त करने लगे, उसकी दवाईयां फैंक दिये जिससे वह तनाव में रहने लगी उसने अपने मायके में घटना की बात बतायी थी उसका भाई सुभाष उसे लेने आया और वह मायके आ गयी थ इसके बाद उसके मायके पक्ष के लोगों ने ससुराल पक्ष के समझाने की कोशिश की उसके बाद भी उसका पति उसे साथ में नही ले गया, शिकायत पर आरेपी पति श्रीकांत शर्मा, जेठ रविकांत शर्मा , जेठानी लक्ष्मी शर्मा सभी निवासी केसरीनगर मानेगांव राझी के विरूद्ध धारा 498 ए, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।
शेयर करें: