मंगलवार को मूँगा रत्न धारण करने के लाभ

**नवग्रहों में जहाँ सात ग्रहों को पूर्ण ग्रह कहा जाता है वहीं इनमें से दो ग्रहों को छाया ग्रह कहा गया है। ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति के जीवन में पराक्रम का सबसे ज्यादा प्रभाव होता है और पराक्रम का कारक मंगल ग्रह को माना गया है। इसके अलावा मंगलवार के दिन पर मंगल ग्रह का शासन होता है।**

**ग्रहों के सेनापति अर्थात मंगल ग्रह उत्साह का कारक भी माना जाता है। ऐसे में स्वाभाविक है कि जिस व्यक्ति की कुंडली में मंगल ग्रह अशुभ स्थिति में मौजूद होता है** ऐसे व्यक्ति को जीवन में तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है वहीं, मंगल की शुभ स्थिति व्यक्ति के जीवन में तमाम सफलताओं और उत्साह की वजह बनती है। जहां सप्ताह में मंगलवार का दिन मंगल ग्रह से संबंधित माना गया है वहीं इस दिन से संबंधित रत्न मूँगा को कहा जाता है। मूँगा रत्न बेहद ही प्रभावकारी और मंगलकारी रत्न है।

ऐसे में जिन व्यक्तियों की कुंडली में मंगल ग्रह शुभ होकर कमजोर स्थिति में होता है ज्योतिष के जानकार उन्हें मूँगा रत्न धारण करने की सलाह देते हैं। मूँगा रत्न के बारे में ऐसी मान्यता है कि जो कोई भी व्यक्ति इसे सही नियम और सावधानी के साथ धारण करता है उसके जीवन में सफलता आने लगती है। इसके अलावा जो कोई भी व्यक्ति सही विधि, सही नियम, और सही सावधानियों का पालन करते हुए मूँगा रत्न मंगलवार के दिन धारण करता है उसके जीवन में आर्थिक संपन्नता बनी रहती है। सरल शब्दों में कहें तो मूँगा रत्न किस्मत बदलने वाला रत्न होता है। **यदि आप अपने लिए अनुकूल रत्न की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं(9302409892)**

**मंगलवार को मूँगा रत्न धारण करने के लाभ –मूँगा रत्न को अंग्रेजी में कोरल के नाम से जानते हैं**। इसका रंग लाल होता है हालांकि यह अन्य रंगों में भी उपलब्ध होते हैं। मूँगा रत्न को ऊर्जा प्रदान करने वाला रत्न माना गया है। हालांकि ,मंगलवार को इसे धारण करने से कई अन्य फायदे भी होते हैं। जैसे कि, मंगलवार को मूँगा रत्न धारण करने पर व्यक्ति को खून और सिर आदि से संबंधित बीमारियों से रक्षा मिलती है। इसके अलावा सर्पदंश और बिच्छू के डंक से भी मूँगा रत्न सुरक्षा करता है। इसके अलावा जिन व्यक्तियों के जीवन में परेशानियां निरंतर बनी रहती हैं उन्हें मूँगा रत्न धारण करना विशेष फलदायी साबित होता है। मंगलवार के दिन लाल मूँगा रत्न धारण करने से व्यक्ति को धैर्य साहस आत्मसम्मान और दृढ़ इच्छाशक्ति मिलती है। इसके अलावा जो बच्चे कुपोषण से पीड़ित होते हैं उनके लिए भी लाल मूँगा रत्न बेहद ही शुभ फलदाई साबित होता है।

मूँगा रत्न धारण करने के नुकसान
हालांकि ऐसा नहीं है कि किसी रत्न को धारण करने के बाद व्यक्ति को सिर्फ इसके लाभ ही मिलें। यदि गलत तरीके या फिर गलत ढंग से पहना जाए तो रत्नों से व्यक्ति को नुकसान भी हो सकता है। ऐसे में बात करें मूँगा रत्न से होने वाले नुकसान की तो, बिना सलाह और किसी जानकार से परामर्श के मूँगा रत्न धारण किया जाए तो इससे व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधित परेशानियां हो सकती हैं। इसके अलावा ऐसे व्यक्तियों का वैवाहिक जीवन भी नकारात्मक ढंग से प्रभावित होने की आशंका रहती है। मूँगा रत्न यदि गलत तरीके से धारण किया जाए तो इससे व्यक्ति का क्रोध बढ़ने लगता है और आत्मविश्वास कम होने लगता है।

**राशिनुसार लाल मूँगा रत्न: धारण करें या नहीं?**

**मेष राशि**: मेष जातक मूँगा धारण कर सकते हैं।
**वृषभ राशि**: वृषभ जातकों को मूँगा धारण करने से बचना चाहिये।
**मिथुन राशि**: मिथुन जातकों को लाल मूँगा नहीं धारण करना चाहिए।
**कर्क राशि**: कर्क जातक मूँगा धारण कर सकते हैं।
**सिंह राशि**: सिंह जातक मूँगा धारण कर सकते हैं।
**कन्या राशि**: कन्या जातकों को मूँगा नही धारण करना चाहिए।
तुला राशि: तुला जातकों को रेड कोरल नहीं धारण करना चाहिए।
**वृश्चिक राशि**: वृश्चिक जातक विशेष परिस्थिति में मूँगा धारण कर सकते हैं।
**धनु राशि**: धनु जातक यदि उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित हैं तो ही इस रत्न को धारण करें अन्यथा इससे बचें।
**मकर राशि**: मकर जातको को मूँगा रत्न नहीं धारण करना चाहिए।
**कुंभ राशि**: कुंभ जातक विशेष परिस्थिति में मूँगा रत्न धारण कर सकते हैं।
**मीन राशि**: मीन राशि के जातक लाल मूँगा रत्न धारण कर सकते हैं।

 

शेयर करें: