4 शुभ योगों के संयोग के साथ मनाई जाएगी बसंत पंचमी

कटनी/स्लीमनाबाद(सुग्रीव यादव): माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि जिसे बसन्तपंचमी के नाम से जाना जाता है इस दिन ज्ञान व कला की देवी माँ सरस्वती का प्राकट्य हुआ था।जिस कारण शैक्षणिक संस्थानों मैं भी मां सरस्वती का पूजा अर्चना होगी।जिसको लेकर तैयारियां की जा रही है।
पंडित रमाकान्त पौराणिक ने बताया कि इस साल 4 शुभ योगों के साथ बसंत पंचमी मनाई जाएगी।जो बेहद फलदायी होगी। इस दिन सिद्ध योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, शिव योग और रवि योग रहेगा।

26 जनवरी को बसन्तपंचमी के साथ बिखरेगा आजादी का रंग-
बसंत पँचमी का पर्व 26 जनवरी को मनाया जाएगा।
इस दिन राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस भी मनाया जाएगा। इससे बसंत पंचमी तिरंगा मय होने वाला है। इसे लेकर स्कूल व शैक्षणिक संस्थानों में तैयारी शुरू हो गई है। शैक्षणिक संस्थान इस बार तिरंगे रंग से साज-सज्जा करने की तैयारी की जा रही है।विश्व कल्याण की कामना को लेकर उमड़ेगा जनसैलाब-
हरिदास ब्रजधाम कोहका मैं बसंत पंचमी पर बसन्तोत्सव पर्व मनाया जाएगा।जहां विश्व कल्याण की कामना को लेकर धर्म ध्वजा रोहण भगवान बाँके बिहारी को मध्य रात्रि मैं अर्पित किया जाएगा।बसन्तपंचमी पर दिनभर पूजा अर्चना का दौर चलेगा।जहां दूरदराज से बड़ी संख्या मे भक्त गण पहुचेंगे और आस्था के द्वार मत्था टेक सुख समृद्धि की कामना करेंगे।

शेयर करें: