माँ बाप से नाराज होकर रीवा से जबलपुर आये बालकों को पुलिस ने किया परिजनों के हवाले 

 

जबलपुर :माता पिता की डांट से रीवा हनुमना से भाग कर जबलपुर आये 2 बालकों को जबलपुर पुलिस ने  परिजनों के सुपुर्द किया,पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा अपहृत अवयस्क बालक/बालिकाओं के प्रकरणों को गम्भीरता से लेते हुये थानों में लंबित 363 भादवि के प्रकरणो में अवयस्क बालक/बालिकाओं की दस्तयाबी एवं लावारिस घूमने वाले अवयस्क बालक बालिकाओं के सम्बंध में पतासाजी करते हुये परिजनों के सुपुर्द करने हेतु जिले मे पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियो एवं थाना प्रभारियों को आदेशित किया गया है।

बस स्टैंड के पास मिले थे पुलिस को

थाना प्रभारी माढोताल  रीना पाण्डे शर्मा ने बताया कि आज दिनाॅक 31-1-21 की रात लगभग 3 बजे दौरान पैट्रोलिंग के आई.एस.बी.टी. बस स्टैण्ड के पास 2 बालक जिनकी उम्र 12 एवं 13 वर्ष की थी घूमते हुये मिले, दोनो बालकों ने पूछताछ पर अपने नाम अंकित पटेल पिता रामाश्रय पटेल उम्र 12 वर्ष एवं सोनू पटेल पिता रामगोपाल पटेल उम्र 13 वर्ष दोनों निवासी कैलाशपुर थाना हनुमना जिला रीवा बताते हुये बताये कि माता पिता के द्वारा डांटने के कारण बिना बताये घर से भाग आये हैं, दोनों बालकों के सम्बंध में तुरंत थाना हनुमना जिला रीवा से सम्पर्क कर ग्राम कैलाशपुर के सरपंच श्री अशोक पटेल का मोबाईल नम्बर प्राप्त कर दोनों बालकों के घर से भाग कर आईएसबीटी बस स्टैण्ड जबलपुर पहुंचने की जानकारी दी गयी, सरपंच श्री अशोक पटेल ने रात्रि में ही गाॅव मे हीं रहने वाले दोनों बालकों के माता पिता से बात करायी, जिन्होने बताया कि दोपहर मे 12 बजे दोनों घर से निकले थे, जिनकी तलाश परिचितों एवं रिश्तेदारियों मे कर रहे थे तलाश करने में देर रात हो जाने के कारण थाने रिपोर्ट करने नहीं गये थें दोनों बालको के माता पिता के द्वारा बताये जाने पर गाॅव के संतोष कुमार पटेल जो कृष्णा नगर गोहलपुर में रहते है के सुपुर्द दोनों बच्चों को किया गया है।घर से भाग कर आये दोनों बालकों के परिजनों के सम्बंध में पतासाजी करते हुये दोनों बालकों को सुरक्षित हाथों में सुपुर्द करने में सउनि मनोज चैधरी, आरक्षक लखन निशाद, संदीप की सराहनीय भूमिका रही।

शेयर करें: