कोरोना के चलते जिले में अतिरिक्त प्रतिबंधात्मक आदेश जारी

जबलपुर, कोरोना के बढ़ते संक्रमण तथा होली, शब-ए-बारात, ईस्टर एवं ईद-उल-फितर आदि त्यौहारों के मद्देनजर पूर्व में 20 मार्च को जारी आदेश को यथावत रखते हुए जिला दंडाधिकारी एवं कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत जबलपुर जिले में अतिरिक्त प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया है।
आदेश तत्काल प्रभाव से लागू भी हो गया है और यह आगामी आदेश तक प्रभावी रहेगा। जिला दंडाधिकारी द्वारा जारी इस आदेश में कहा गया है कि शादी समारोह में वर-वधू पक्ष को मिलाकर अधिकतम 50 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे। जिम, स्वीमिंग पूल एवं सिनेमाघर बंद रहेंगे। आदेश में सभी सामाजिक तथा धार्मिक त्यौहारों में जुलूस, गैर मेले आदि के आयोजन पर रोक लगाई गई है।
प्रतिबंधात्मक आदेश में जिले के नागरिकों को कोरोना के संक्रमण से सुरक्षा के लिए त्यौहारों को अपने घर में रहकर परिवारजनों के साथ मनाने की सलाह दी गई है। आदेश में अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोगों तथा उठावना एवं मृत्युभोज के कार्यक्रम में अधिकतम 50 को ही शामिल होने की अनुमति दी गई है। आदेश के मुताबिक सभी रेस्टारेंट, छोटे-बड़े होटल, ढाबा, चाट के ठेले आदि में खड़े होकर अथवा बैठकर खाने पर प्रतिबंध रहेगा लेकिन ये टेक अवे अथवा पैक्ड खाद्य सामग्री प्रदाय कर सकेंगे। प्रतिबंधात्मक आदेश में कहा गया है कि बंद हॉल के कार्यक्रम में हॉल की 50 प्रतिशत क्षमता अथवा अधिकतम 100 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं हो सकेंगे। प्रतिबंधात्मक आदेश में रविवार 28 मार्च के लॉकडाउन के दौरान शासकीय कोषालय एवं उपकोषालय तथा पंजीयन एवं उपपंजीयन कार्यालयों को खुले रहने की अनुमति दी गई है। इनमें कार्य करने वाले कर्मचारियों एवं सेवा प्राप्त करने वाले नागरिकों का आवागमन प्रतिबंधित नहीं रहेगा।
प्रतिबंधात्मक आदेश में चेतावनी दी गई है कि इसका उल्लंघन करने वाले आयोजनकर्ता अथवा व्यक्तियों के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम की की धारा 51 से 60 तक तथा भारतीय दंड प्रक्रिया की धारा 188 एवं अन्य सभी कानूनी प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जायेगी।

शेयर करें: