सिहोरा में भगवान भोलेनाथ की निकली भव्य बारात 

 

जबलपुुुर/सिहोरा:नगर में चहुॅओर महाशिवरात्रि की दिनभर धूम रही। शिवमंदिर बाबाताल सहित अन्य शिवालयों में भगवान शंकर का विशेष श्र्ंगार किया गया तथा श्रद्वालूजनों द्वारा भक्तिभाव के साथ पूजा अर्चना की गई । शिवमंदिरों में सुबह से ही औघड़दानी की पूजा करने भक्तों का तॉंता लगा रहा । झंकार समिति द्वारा बाबाताल शिवमंदिर में पार्थिव शिवलिंग निर्माण कराया गया जिसमें महिलाओं ने बडी संख्या में में हिस्सा लिया। अभिषेक के बाद शिवलिंग का पूर्ण श्रद्वाभक्ति भाव के साथ हिरन नदी में विसर्जन किया गया।

नगर भ्रमण पर निकली भोलेबाबा की बारात
शिवमंदिर बाबाताल में शायं ६ बजे नगरवासियों द्वारा भगवान भोलेनाथ की बारात एवं ध्वज यात्रा निकाली गई जिसका शुभारंभ महामंडलेश्वर सिया वलल्भदास वेदांति जी महाराज ने कराया तथा विधायक नंदनी मरावी सहित अनेक गणमान्य नागरिकों ने शिव पार्वती एवं भारतमाता का पूजन किया भगवान की बारात पुराना बस स्टेंड, गौरी तिराहा, झण्डा बाजार, कालभैरव चौक,मैना कुॅआ, हरदौल मंदिर से होकर निकली उसके बाद बाबाताल में महाआरती एवं प्रसाद वितरण का आयोजन किया गया। बारात में भगवान के भक्त जिसमें महिलाओं की संख्या अधिक थी सभी नाचते हुए चल रहे थे । इस अवसर पर बडी संख्या में शिवभक्त एवं जन प्रतिनिधी उपस्थित थे।

 

बस स्टेंड से निकली ध्वज यात्रा
जैसे ही भगवान भोलेनाथ की बारात पुराना बस स्टेंड स्थित होन्डा शो रूम शनि दुर्गा मंदिर के सामने पहुॅची तो वहां पर सबसे पहले जमकर आतिशबाजी हुई इसके बाद बारात में शामिल सभी शिव भक्तों का आयोजकों ने नारियल एवं भगवा गमछा भेंटकर स्वागत करने के बाद ध्वज यात्रा प्रारंभ हुई ।
अनेक स्थानों पर प्रसाद वितरण
भगवान शिवजी की बारात का पुराना बस स्टेंड, झण्डा बाजार, काल भैरव चौक सहित अनेक स्थानों पर फलाहारी नमकीन, कपूरकंद, भांग का वितरण किया गया। इसी तरह शिवमंदिर बाबाताल में विशाल भंडारे के साथ खीर,पुडी ,दूध ,हलुआ आदि का प्रसाद वितरण किया गया ।

शिव पिंडी चुरा ले गए चोर 

सिहोरा-एक तरफ पूरे देश में आस्था एवं उमंग के साथ महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ सिहोरा खुडावल रोड स्थित गैस गोदाम के बाहर विराजमान भगवान शिव की मूर्ति गायब हो गई गैस गोदाम के कर्मचारी गोपाल यादव ,कुवंर लाल पटेल ,केदार सिंह ठाकुर ने बताया कि आज शिवरात्रि के पावन पर्व पर भंडारे का आयोजन किया गया था जिसकी तैयारी एवं मंदिर की साफ सफाई करने प्रात: 3 बजे जब मंदिर पहुंचे तो देखा कि मंदिर से मूर्ति गायब है घटना की लिखित सूचना सिहोरा थाने में दे कर तत्काल नये शिव लिंग की स्थापना कर पूजा अर्चना की गई ।

 

शेयर करें: