25 फरवरी, 2021( गुरुवार): शुभ योग का विशेष संयोग

 

*ज्योतिषाचार्य निधि राज त्रिपाठी के अनुसार—–

*इस दिन माघ मास की शुक्ल पक्ष की शाम तक त्रयोदशी लग रही है। गुरुवार और पुष्य नक्षत्र से बनने वाला यह संयोग कई अन्य शुभ योग भी अपने साथ लेकर आ रहा है।*

*इस दिन चंद्रमा अपनी ही राशि कर्क में रहने वाले हैं। सूर्य कुंभ राशि पर रहेगा। गण्डमूल नक्षत्र के कारण इस दिन का महत्व और बढ़ रहा है। साथ ही इस दिन सर्वार्थ सिद्धि और अमृत सिद्धि योग भी बन रहे हैंI इस दिन रवि योग के साथ अमृत योग भी रहेगा।*

*वैसे तो गोचर में चंद्रमा का राशि के चौथे, आठवें एवं 12वें भाव में उपस्थित होना अशुभ माना जाता है। परंतु यह पुष्य नक्षत्र की ही अनुकंपा है जो अशुभ घड़ी को भी शुभ घड़ी में परिवर्तित कर देती है।*

*एक दिन में इन सभी दुर्लभ योगों का एक साथ आना किसी वरदान से कम नहीं है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन किया गया कोई भी शुभ कार्य का फल कई जन्मों तक मिलता है।*

*25 फरवरी के शुभ योग मुहूर्त:*

●   *गुरु पुष्य योग;*
*सुबह 06 बजकर 50 मिनट से प्रारंभ होकर दोपहर 01 बजकर 17 मिनट तक रहेगा।*

●   *सर्वार्थ सिद्धि और अमृत सिद्धि योग:*
*सुबह 06 बजकर 50 मिनट से प्रारंभ होकर दोपहर 01 बजकर 17 मिनट तक रहेगा।*

●   *रवि योग:*
*दोपहर 01 बजकर 17 मिनट से प्रारंभ होगा और अगली सुबह 06 बजकर 49 मिनट तक रहेगा।*

●   *अमृत काल:*
*सुबह 06 बजकर 53 मिनट से प्रारंभ होगा और 08 बजकर 29 मिनट तक रहेगाI*

●   *वेद मंत्र:*
*ॐ बृहस्पते अतियदर्यौ अर्हाद दुमद्विभाति क्रतमज्जनेषुI यददीदयच्छवस ऋतप्रजात तदस्मासु द्रविण धेहि चित्रम।*

●    *पुष्य नक्षत्र का नाम मंत्र:*
*ॐ पुष्याय नम:।*

●     *नक्षत्र देवता के नाम का मंत्र:*
*ॐ बृहस्पतये नम* *जय श्री कृष्णा*

**लेकिन, यदि आपके मन में कोई और दुविधा है या इस संदर्भ में आप और ज्यादा विस्तृत जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं ज्योतिष व वास्तु के लिए सम्पर्क करे* **ज्योतिषचार्य निधिराज त्रिपाठी** अगर आपको ग्रह दशा के बारे में जानकारी चाहिए तो आप हमें +91-9302409892 पर कॉल करें। या आप हमें
“अपना नाम”
“जन्म दिनांक”
“जन्म समय”
“जन्म स्थान”
व्हाट्सएप करें!! धन्यवाद
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार देखा जाए तो हर व्यक्ति का जन्म होते ही वह अपने प्रारब्ध के चक्र से बंध जाता है और ज्योतिषशास्त्र द्वारा निर्मित जन्म कुंडली हमारे इसी प्रारब्ध को प्रकट करती है। हमारे जीवन में सभी घटनाएं बारह राशि व नवग्रह द्वारा ही संचालित होती हैं। इन ग्रहों का आपके जीवन पर आने वाले समय में कैसा प्रभाव पड़ेगा इसके बारे में विस्तृत जवाब जानने के लिए अभी आप भी कर्ज़ की समस्या से परेशान हैं, और उससे जुड़ा कोई व्यक्तिगत उपाय, निवारण जानना चाहते हों या इससे जुड़े किसी सवाल का जवाब चाहिए हो तो
अभी इस नंबर पर आप संपर्क कर सकते हैं l 9302409892

शेयर करें: