2 लाख की अवैध शराब 2250 रैपर छोटा हाथी वाहन के साथ 2 आरोपी गिरफ्तार

 

जबलपुर ;अवैध शराब की तस्करी में लिप्त दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार करते हुए 2 लाख की अवैध शराब 2250 रैपर छोटा हाथी वाहन जप्त करने की कार्यवाही की है,शराब तस्करों ने शराब तस्करी के लिए छोटे हाथी वाहन में शराब तस्करी के लिए गुप्त केबिन बनाकर रखा गया था,

छोटे हाथी में गुप्त कैबिन बनाकर की जा रही थी शराब की तस्करी 

 

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आज दिनाॅक 6-2-21 को क्राईम ब्रांच को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि छोटा हाथी क्रमंाक एमपी 20 जीए 8995 में सिवनी की ओर से भारी मात्रा में अवैध शराब लायी जा रही है। सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये थाना प्रभारी चरगवाॅ के नेतृत्व में टीम के द्वारा थाना चरगवाॅ अंतर्गत नया नगर में नहर के पास घेराबंदी करते हुये मुखबिर के बतायेनुसार आ रहे छोटा हाथी वाहन को रोका गया, छोटा हाथी में सवार राजन कुमार पिता शंकर कुमार उम्र 35 वर्ष निवासी प्रेमसागर चैकी के पीछे हनुमानताल एवं प्रदीप परमार पिता स्व. देवेन्द्र ंिसह परमार उम्र 28 वर्ष निवासी बाई का बगीचा को अभिरक्षा में लेते हुये छोटा हाथी वाहन की तलाशी ली गयी तो वाहन का पिछला हिस्सा खाली मिला बारीकी से तलाशी लेने पर कैबिन के पीछले हिस्से मे कम्पार्टमेंट बना मिला जो नट बोल्ट से कसा हुआ था, पाने के सम्बंध में पूछताछ करते हुये बने हुये कंपार्टमेंट को खोला गया तो कम्पार्टमेंट के अंदर देशी शराब की पेटियाॅ भरी हुई थी, गिनती करने पर कम्पार्टमेंट के अंदर 45 पेटियाॅ देशी शराब की, प्रत्येक पेटी में 50-50 पाव भरे हुये है, कीमती लगभग 2 लाख 2500 रूपये की तथा देशी शराब की बाॅटल के उपर चिपकाये जाने वाले लगभग 2250 रैपर तथा चिपकाने हेतु गोंद रखी हुई मिली, शराब की पेटियों को खोलकर चैक किया गया तो पेटियों में बिना रैपर के देशी शराब के पाव भरे हुये मिले, कुछ में रैपर चिपका हुआ है जिस पर सप्लाई एरिया डिस्ट्रीक सिवनी लिखा हुआ है, जो 2250 रैपर मिले हैं, उसमें सप्लाई एरिया नहीं लिखा हुआ है। प्रारम्भिक पूछताछ पर पाया गया है कि दूसरे जिले मे बिक्री हेतु अधिकृत देशी शराब के पाव पर नया रैपर चिपकाकर बेचा जाता था ताकि किसी को शक न हो कि दूसरे जिले मे बिक्री हेतु अधिकृत शराब बेची जा रही है।
छोटा हाथी वाहन मय शराब के जप्त करते हुये दोनों आरोपियों को अभिरक्षा मे लेते हुये थाना चरगवाॅ लाया गया एवं सघन पूछताछ की गयी जिस पर पाया गया कि छोटा हाथी वाहन प्रदीप परमार का है, कंजड मोहल्ला बेलबाग निवासी रचित जाट के कहने पर प्रदीप परमार अपना छोटा हाथी वाहन खवासा बाॅडर गया था, रचित जाट अपनी वैगनार कार से खवासा बाॅर्डर पहुंचा था खवासा में रचित जाट छोटा हाथी वाहन मे शराब लोडकर लाकर दिया था एवं कहा था कि जबलपुर लेकर चलो मैं अपनी कार से आगे आगे चल रहा हूॅ, रचित जाट वैगनार कार से आगे आगे था जो भाग गया है। आरोपियों के विरूद्ध थाना चरगवाॅ में धारा 34 (2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुये अवैध शराब के परिवहन एवं कारोबार में लिप्त आरोपियों की सरगर्मी से तलाश जारी है।

*उल्लेखनीय भूमिका* – दो आरोपियों केा अवैध शराब के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी चरगवाॅ  रीतेश कुमार पाण्डेय, सहायक उप निरीक्षक एल.आर. पटेल, आरक्षक सौरव पटेल एवं क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक प्रमोद पाण्डे, अजय पाण्डे, आरक्षक रामगोपाल, राममिलन, ब्रम्हप्रकाश, महेन्द्र पटेल, खुमान सिंह की सराहनीय भूमिका रही। टीम को पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।

शेयर करें: