विशाल रक्तदान शिविर में महाविद्यालय के 138 छात्रों ने किया रक्तदान

जबलपुर/सिहोरा;शासकीय श्याम सुंदर अग्रवाल स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिहोरा में विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ श्री मति संतोष जाटव के संरक्षण में एवं एन. सी.सी. 1 MP सिग्नल के कमान अधिकारी के कर्नल जो.बी.जोसफ के मार्गदर्शन में एवं महाविद्यालय के एन.सी.सी.प्रभारी कैप्टेन डॉ डी.के.बघेल के नेतृत्व में एवं एन. एस. एस. प्रभारी डॉ अजय कोस्टा के सहयोग से सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। विशाल रक्तदान शिविर में 158 छात्रों का पंजीयन हुआ जिसमें 138 छात्रों ने रक्तदान किया। 45 छात्रों के अंडर वेट और हीमोग्लोबिन का स्तर कम होने के कारण रक्तदान करने में असमर्थ हो गए। ध्यातव्य है कि पिछले कई वर्षों से निरंतर हमारे महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का सफलतापूर्वक आयोजन किया जाता रहा है।
रक्तदान शिविर में विक्टोरिया हॉस्पिटल के मुख्य चिकित्सक डॉ संजय मिश्रा एवं सहयोगी स्टॉफ रवि मोहलिया, मंजू मजहर ,राजेन्द्र गुप्ता, एवं एल्गिन हॉस्पिटल के विशाल धूलिया, सत्यप्रकाश साहू, अमित पटेल, ऋषिकांत दुबे, चिकित्सा स्टाफ की उपस्थिति सराहनीय रही। सिहोरा सिविल हॉस्पिटल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ आर.एन. त्रिपाठी ने भी रक्तदान शिविर का निरीक्षण कर अपना सराहनीय सहयोग दिया। इस कार्यक्रम में एच्.डी.एफ.सी. बैंक के लीजु जोसफ एवं विवेक विश्वकर्मा जी के सहयोग से रक्तदान करने वाले छात्रों को गिफ्ट हैंपर देकर रक्तदान हेतु प्रेरित किया गया।
महाविद्यालय के प्राध्यापकों ने रक्तदान महादान है न केवल छात्रों को बताया बल्कि स्वयं भी रक्तदान करने में बढ़ -चढ़ कर हिस्सा लिया। महाविद्यालय के स्टॉफ डॉ एस. के. तिवारी, डॉ एस. एस. बागरी, डॉ एस. के. मेहरोलिया, डॉ राहुल शर्मा, डॉ आनंदीलाल कुर्मी, श्री अंकित द्विवेदी, श्री अखिलेश कुर्मी ने स्वयं रक्तदान देकर छात्रों को अधिक से अधिक रक्तदान करने हेतु प्रेरित किया।
इस कार्यक्रम के सुचारू रूप से सफल संचालन हेतु गठित रजिस्ट्रेशन समिति के डॉ एस. के.मेहरोलिया, डॉ आनंदीलाल कुर्मी, डॉ अर्चना नामदेव एवं अनुशासन समिति में डॉ सुनु आर के मैथयू, डॉ एस. एस. बागरी, श्री पवन नामदेव, डॉ रूपेश कुशवाहा एवं समाचार संकलन समिति में श्री जागेश्वर प्रजापति एवं स्वल्पाहार समिति में डॉ अजय कोस्टा एवं डॉ राजेश वाहने का सहयोग सराहनीय रहा। और महाविद्यालय के सभी शैक्षणिक और कार्यालयीन स्टॉफ ने भी कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु भरपूर सहयोग प्रदान किया।

शेयर करें: