हस्तशिल्प उत्पादों के प्रदर्शन के लिए विदेशों में भी खोले जायेंगे शोरूम —श्री हर्ष यादव

0

जबलपुर :शहर पहुँचे कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री ने नेशनल हैण्डलूम एक्सपो का सुभारम्भ करते हुए प्रदेश के कुटीर एवं ग्रामोद्योग तथा नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हर्ष यादव ने कहा है कि बुनकरों की माली हालत सुधारने के लिए प्रदेश सरकार न केवल उन्हें बेहतर सुविधायें उपलब्ध करा रही है बल्कि उनके हस्तशिल्प उत्पादों की ब्रांडिंग और मार्केटिंग के प्रयास भी कर रही है । उन्होंने कहा कि सरकार ने एक वर्ष में ही हस्तशिल्प उत्पादों की ब्रांडिंग के लिए नौ करोड़ रूपये की राशि खर्च की गई है और अब हमारी सरकार देश के विभिन्न प्रांतों के साथ-साथ विदेशों में भी हस्तशिल्प उत्पादों के प्रदर्शन के लिए शोरूम खोलने जा रही है ।
श्री यादव आज यहां एमएलबी स्कूल परिसर में आयोजित नेशनल हैण्डलूम एक्सपो के उद्घाटन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे । प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया एवं विधायक श्री विनय सक्सेना नेशनल हैण्डलूम एक्सपो के उद्घाटन समारोह के विशिष्ट अतिथि थे । इस अवसर पर कलेक्टर श्री भरत यादव, जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा, श्री दिनेश यादव एवं श्री सम्मति सैनी भी मंचासीन थे ।कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री हर्ष यादव ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की सरकार ने बुनकरों, हस्तशिल्प कारीगरों के उत्पादों को अच्छा बाजार उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश के बाहर मृगनयनी एम्पोरियम की स्थापना की दिशा में कदम बढ़ाये हैं । इसके साथ ही विदेशों में भी शोरूम खोलने की दिशा में यह सरकार काम कर रही है । उन्होंने बताया कि प्रदेश में स्थित मृगनयनी एम्पोरियम में हाथकरघा बस्त्रों के साथ-साथ काष्ठ शिल्प, पीतल शिल्प, पत्थर शिल्प उत्पादों के विक्रय का निर्णय भी लिया है ताकि बुनकरों, हस्तशिल्पियों एवं परंपरागत कारीगरों को उनके उत्पादों के प्रदर्शन एवं विक्रय के लिए अच्छा प्लेटफार्म मिल सके ।
श्री यादव ने इस अवसर पर कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में इस सरकार ने एक वर्ष के कम समय में हर क्षेत्र में विकास की जो बुनियाद रखी है, उसके परिणाम आने वाले चार साल में दिखाई देने लगेंगे और ये प्रदेश के लिए स्वर्णिम वर्ष साबित होंगे । न केवल प्रदेश का तेजी से विकास होगा बल्कि युवाओं को रोजगार मिलेगा और बुनकरों तथा कारीगरों का भी आर्थिक उत्थान होगा । कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री ने इस अवसर पर नेशनल हैण्डलूम एक्सपो में शामिल होने आये देश के विभिन्न प्रांतों के बुनकरों का स्वागत भी किया ।
सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया ने समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए जबलपुर में नेशनल हैण्डलूम एक्सपो के आयोजन के लिए कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री हर्ष यादव का आभार व्यक्त किया । उन्होंने कहा कि यह पहला अवसर है जब जबलपुर में वृहद स्तर पर बुनकर समितियों के उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई जा रही है । इससे बुनकरों को अपने उत्पादों के लिए बेहतर बाजार उपलब्ध होगा ।
सामाजिक न्याय मंत्री ने कहा कि पिछली सरकारों के समय बुनकरों की समस्याओं को हल करने पर कोई ध्यान नहीं दिया गया और हस्तशिल्प कला को प्रोत्साहित करने की बजाय तरह-तरह की कठिनाइयाँ खड़ी कर हतोत्साहित किया गया। श्री घनघोरिया ने कहा कि प्रदेश में सबसे ज्यादा बुनकर यदि कहीं है तो वो जबलपुर और बुरहानपुर में हैं । उन्होंने मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व में सरकार द्वारा परंपरागत हस्तशिल्प को बढ़ावा देने के लिए उठाये जा रहे कदमों की सराहना करते हुए कहा कि प्रतिस्पर्धा के इस दौर में हस्तकला जीवित रहे इसकी ओर भी यह सरकार विशेष ध्यान दे रही है ।
विधायक श्री विनय सक्सेना ने अपने विचार व्यक्त करते हुए शहर में नेशनल हैण्डलूम एक्सपो के आयोजन पर प्रसन्नता व्यक्त की । उन्होंने विभिन्न प्रांतों से आये कारीगरों का शहर के नागरिकों की ओर से स्वागत करते हुए कहा कि नेशनल हैण्डलूम एक्सपो से जबलपुरवासियों को अच्छी गुणवत्ता के हाथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों का फायदा मिलेगा साथ ही बुनकरों और हस्त शिल्पियों का उत्साहवर्द्धन भी होगा ।
समारोह के प्रारंभ में कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री हर्ष यादव, सामाजिक न्याय मंत्री श्री घनघोरिया एवं विधायक श्री विनय सक्सेना ने पूरे विधि विधान से गणेश पूजन कर हैण्डलूम एक्सपो का शुभारंभ किया । भारत सरकार के वस्त्र मंत्रालय एवं हाथकरघा विकास निगम द्वारा आयोजित नेशनल हैण्डलूम एक्सपो 26 दिसंबर तक जारी रहेगा इससे देशभर की लगभग 70 बुनकर समितियां अपने उत्पादों का प्रदर्शन कर रही हैं ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x