सड़क पर लिखकर बस हड़ताल ,टोल नाके के विरोध में खड़ी करवा दी बसें, बीच मझदार में छोड़ दी सवारी

0

जबलपुर (गोसलपुर):टोल नाके और बस मालिकों की लड़ाई में बेचारी जनता पिस गई आपको बता दें की बस मालिकों ने एनएच 30 घाट सिमरिया पर स्तिथ एनएचआई के टोल नाके पर बस संचालको ने मनमानी का आरोप लगाते हुए हड़ताल सुरु कर दी बस संचालको की मानें तो वे टोल नाके की मनमानी से परेसान होकर बसों की हड़ताल करने मजबूर हो गए है बस संचालको द्वारा हड़ताल करते हुए टोल नाके के दोनों तरफ बसों को खड़ा कर दिया लेकिन इस दौरान बेचारी सवारियों पिस गई क्योंकि उनको बीच मझदार में ही छोड़ दिया गया कुछ लोगों का तर्क है यदि आज बस संचालको को हड़ताल करनी ही थी तो सवारियां बस में न बैठाते ?सवारियों को बीच मझदार में छोड़ने से सवारियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा और सवारी ऑटो बुक करके अपनी -अपनी मंजिल को गईं आज मंगलवार की सुबह बस संचालको ने टोल नाके द्वारा ज्यादा पैसे लेने के विरोध में हड़ताल सुरु कर दी देखते ही देखते टोल नाके के दोनों तरफ भारी संख्या में बसों की लंबी -लंबी कतारें लगने लगीं जिसकी खबर लगते ही सिहोरा तहसीलदार श्रीमती नीता कोरी मौके पर पहुँची और बस संचालको से बात की लेकिन बस संचालक बात सुनने तैयार नहीं थे

सड़क में लिख दिया बस हड़ताल

वहीं टोल नाके से कुछ ही दूरी पर बस चालको ने सड़क पर बड़े शब्दो मे बस हड़ताल लिखकर हड़ताल सुरु कर दी जिसके बाद सिहोरा की तरफ लगभग 17 बसें और गोसलपुर की तरफ लगभग 15 बसों की सड़क किनारे लंबी कतार लग गई

इन मांगों को लेकर की हड़ताल

वहीं सिहोरा बस संचालक संघ के अध्यक्ष प्रकाश पांडे ने बताया की कटनी टोल नाके में एक बस से दिनभर टोल टेक्स कुल 90 रुपये लिया जाता है लेकिन यहाँ पर एक बस से एक बार का टोल टैक्स 160 रुपये लिया जा रहा है अब ऐसे में एनएचआई द्वारा स्थापित इस टोल टैक्स द्वारा डकैती डाली जा रही है जिसके विरोध स्वरूप हम लोगों ने हड़ताल सुरु की है जो की दिनभर चलेगी

इनका कहना है :बस संचालको द्वारा की जा रही हड़ताल को लेकर हमने बस संचालको से बात की एनएचआई वालों को भी बुलाया है दोनों के बीच बातचीत करवाकर समस्या का हल निकालने का प्रयास किया जा रहा है

सिहोरा तहसीलदार श्रीमती नीता कोरी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
ख़बर चुराते हो अभी पोलखोल दूंगा
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x