सोमवती अमावस्याः दरिद्रता निवारण,20 जुलाई 2020 सोमवार

सोमवती अमावस्याः दरिद्रता निवारण* 👉🏻 *20 जुलाई 2020 सोमवार सूर्योदय से रात्रि 11:03 तक सोमवती अमावस्या है ।* 🙏🏻 *सोमवती अमावस्या के पर्व में स्नान-दान का बड़ा महत्त्व है।* ☺ *इस दिन भी मौन रहकर स्नान करने से हजार गौदान का फल होता है। *इस दिन पीपल और भगवान विष्णु का पूजन तथा उनकी 108 प्रदक्षिणा करने का विधान है। 108 में से 8 प्रदक्षिणा पीपल के वृक्ष को कच्चा सूत लपेटते हुए की जाती है। प्रदक्षिणा करते समय 108 फल पृथक रखे जाते हैं। बाद में वे भगवान का भजन करने वाले ब्राह्मणों या ब्राह्मणियों में वितरित कर दिये जाते हैं। ऐसा करने से संतान चिरंजीवी होती है।* 🌿 *इस दिन तुलसी की 108 परिक्रमा करने से दरिद्रता मिटती है।*

क्या करें क्या न करें पुस्तक से ग़रीबी – दरिद्रता मिटाने के लिए*

*सोमवती अमावस्या के दिन 108 बार अगर तुलसी की परिक्रमा करते हो, ॐकार का थोड़ा जप करते हो, सूर्य नारायण को अर्घ्य देते हो; यह सब साथ में करो तो अच्छा है, नहीं तो खाली तुलसी को 108 बार प्रदक्षिणा करने से तुम्हारे घर से दरिद्रता भाग जाएगी |* 🌷 *धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए* 🌷 🔥 *हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें।* 🍛 *सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा।* 🔥 *विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें।* 🔥 *आहुति मंत्र* 🔥 🌷 *१. ॐ कुल देवताभ्यो नमः* 🌷 *२. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः* 🌷 *३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः* 🌷 *४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः* 🌷 *५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः*

शेयर करें: