सिहोरा के सिविल अस्पताल में प्रशासन के आदेश पर पोत दिया चूना

जबलपुर :जबलपुर जिले की तहसील सिहोरा का सिविल अस्पताल कभी डॉक्टरों की लापरवाही को लेकर हंगामेदार रहा तो कभी अव्यवस्था के चलते सुर्खियों में बना रहा है प्रदेश में भाजपा शासन काल खत्म हुआ कांग्रेश सरकार आ गई लेकिन इस अस्पताल के दिन अभी तक नहीं फिरे यहाँ पर अभी भी डॉक्टरों का अभाव है इलाज के अभाव में रोजाना यहाँ से मरीजों का जबलपुर रिफर होना आम बात है आज हम आपको अस्पताल में लगे उस बोर्ड के बारे में बतायेंगे जिसमें साफ तौर पर सपष्ट निर्देश लिखे है की अस्पताल परिसर में सिर्फ अस्पताल के सरकारी वाहन ही खड़े होंगे अन्य वाहन नहीँ लेकिन यहाँ तो अस्पताल की स्तिथि ऐसी है जैसे यहाँ अस्पताल परिसर न हो कोई वाहन स्टैंड हो

आदेश के बोर्ड में पोत दिया चूंना

वहीं सिविल अस्पताल की दीवाल में कुछ समय पूर्व प्रशासन द्वारा एक बोर्ड लगाया गया था जिसमेँ सख्त निर्देश लिखे गए थे की अस्पताल परिसर में सिर्फ अस्पताल के वाहन ही खड़े होंगे अन्य नहीं यदि ऐसी स्थिति में कोई अस्पताल परिसर के अंदर निजी वाहन खड़ा करता है तो उसके खिलाप 500 रुपये का जुर्माना किया जाएगा लेकिन बोर्ड लगाकर अधिकारी भूल गए तो वहीं अस्पताल की पुताई व्यवस्था के समय ठेकेदार ने बोर्ड में चूना पोत दिया कुलमिलाकर देखें तो अस्पताल परिसर आज भी वाहन स्टैंड बना हुआ है

शेयर करें: